Maurya Kaal GK : परीक्षाओं में पुछे गए मौर्यकाल के प्रश्न

0

प्रश्न- किसने ‘सैंड्रोकोट्स’ (चंद्रगुप्त मौर्य) और सिकंदर महान की भेंट का उल्लेख किया है? (U.P. Lower Sub. (Pre) 2008)
उत्तर-जस्टिन
व्याख्या– जस्टिन ने ‘सैंड्रोकोट्स’ (चंद्रगुप्त मौर्य) और सिकंदर महान की भेंट का उल्लेख किया है|

परीक्षा में पुछे जाने वाले उत्तरप्रदेश के प्रश्न

प्रश्न- कौटिल्य का अर्थशास्त्र है, एक? (U.P.P.C.S. (Main) 2012)
उत्तर- शासन के सिद्धांतों की पुस्तक
व्याख्या- कौटिल्य (चाणक्य) द्वारा मौर्य काल में रचित अर्थशास्त्र शासन के सिद्धांतों की पुस्तक है| इसमें राज्य के सप्तांग सिद्धांत-राजा, अमात्य, जनपद, दुर्ग, कोष, दंड एवं मित्र के सर्वप्रथम व्याख्या मिलती है| अर्थशास्त्र से तत्कालीन प्रशासन एवं कृषि व्यवस्था की भी विस्तृत जानकारी प्राप्त होती है|

प्रश्न- कौन-सा सबसे पुराना राजवंश है?-(Uttarakhand Lower Sub. (Pre) 2010)
उत्तर-‘मौर्य’
व्याख्या-उपर्युक्त दिए गए विकल्पों में मौर्य राजवंश सबसे प्राचीन है | इसका समय 323-184 ईसा पूर्व तक था | मौर्य राजवंश की स्थापना चंद्रगुप्त मौर्य ने की थी | इसके बाद कुषाण वंश, गुप्त राजवंश (319-550 ई.) और वर्धन राजवंश ने प्राचीन भारत पर शासन किया | इस प्रकार “मौर्य” उत्तर सही है|

प्रश्न- चाणक्य का अन्य नाम था- (I.A.S. (Pre) 1993)
उत्तर- विष्णु गुप्त

प्रश्न-प्रथम भारतीय साम्राज्य स्थापित किया गया था-(U.P. Lower Sub (Pre) 2002)
उत्तर-‘चंद्रगुप्त मोर्य द्वारा’
व्याख्या-चंद्रगुप्त मौर्य की गणना भारत के महान शासकों में होती है| वह भारत का प्रथम ऐतिहासिक सम्राट था | वह ऐसा पहला सम्राट था, जिसने वृहत्तर भारत का पहला शासन स्थापित किया और जिस का विस्तार ब्रिटिश सम्राट से बड़ा था | उसके सम्राट की सीमा ईरान से मिलती थी | उसने ही भारत में सर्वप्रथम राजनीतिक रुप से एक बंद किया|

-प्रश्न-किसके ग्रंथ में चंद्रगुप्त मौर्य का विशिष्ट रूप से वर्णन हुआ है वह है-(46th B.P.S.C. (Pre) 2003)
उत्तर-‘विशाखदत्त’
व्याख्या-विशाखदत्त कृत ‘मुद्राराक्षस’ से चंद्रगुप्त मौर्य के विषय में विस्तृत सूचना प्राप्त होती है| इस ग्रंथ में चंद्रगुप्त को नंदराज का पुत्र माना गया है| मुद्राराक्षस में चंद्रगुप्त को ‘वृषल’ तथा ‘कुलीन’ भी कहा गया है| धुंडीराज ने मुद्राराक्षस पर टीका लिखी थी| मुद्राराक्षस ने अतिरिक्त विशाखदत्त के नाम से दो अन्य रचनाओं का भी उल्लेख प्राप्त होता है| (1) देवी चंद्रगुप्त तथा (2) अभिसारिका वंचित तक या अभिसारिका बंधितक (अप्राप्य)

प्रश्न- चाणक्य अपने बचपन में किस नाम से जाने जाते थे? (U.P.P.C.S. (Pre) 2006)
उत्तर- विष्णुगुप्त
व्याख्या- ऋषि चानक ने अपने पुत्र का नाम चाणक्य रखा था| ‘अर्थशास्त्र’ के लेखक के रूप में इसी पुस्तक में उल्लेखित ‘कौटिल्य’ तथा एक पद्य खंड में उल्लिखित ‘ विष्णुगुप्त’ नाम की साम्यता चाणक्य से की जाती है|

Hindi GK 2019 : हिन्दी से संबंधित सामान्य ज्ञान के महत्वपूर्ण प्रश्न

प्रश्न- कौटिल्य प्रधानमंत्री थे? (U.P.P.C.S. (Pre) 2002) (U.P. Lower Sub. (Spl) (Pre) 2002)
उत्तर- चंद्रगुप्त मौर्य के
व्याख्या- चंद्रगुप्त मौर्य के जीवन निर्माण में कौटिल्य का महत्वपूर्ण योगदान था| वह इतिहास में विष्णु गुप्त तथा चाणक्य इन 2 नामों से भी बिछड़ थे| जब चंद्रगुप्त मौर्य भारत का एक छात्र सम्राट बना तो कौटिल्य प्रधानमंत्री, महामंत्री तथा प्रधान पुरोहित के पद पर आसीन हुए| वह राजनीतिक शास्त्र के प्रकांड पंडित थे और उन्होंने राजनीतिक शास्त्र पर ‘अर्थशास्त्र’ नामक प्रसिद्ध ग्रंथ की रचना की थी| क्या भारत में राज्य शासन के ऊपर उपलब्ध प्राचीनतम रचना है|

Chhattisgarh GK 2019 : छत्तीसगढ़ से संबन्धित सामान्य ज्ञान के प्रश्न

प्रश्न– बुलंदीबाग कहां का प्राचीन स्थान था-(U.P.P.C.S (Slp) (Main) 2008)
उत्तर- पाटलिपुत्र का
व्याख्या- बुलंदी बाग, पाटलिपुत्र का प्राचीन स्थान था| यहां से उत्खनन में लकड़ी के विशाल भवनों के अवशेष प्रकाश में आए हैं| इन्हें प्रकाश में लाने का श्रेय स्पूनर महोदय को है| आता उत्तर पाटलिपुत्र सही है|

 

Share.