website counter widget

AIIMS MBBS Preparation Tips : एम्स की एमबीबीएस एंट्रेंस में इस तरह पाएं सफलता

0

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (AIIMS) एमबीबीएस एंट्रेंस 2019 के नतीजे आ चुके हैं | दिल्ली के भाविक बंसल ने देशभर में टॉप किया है। 100 परसेंटाइल स्कोर के साथ भाविक को पहली रैंक मिली है। नीट में 700 अंकों के साथ भाविक को दूसरी रैंक मिली थी। यदि आप भी इस परीक्षा में सफलता पाना चाहते हैं तो हम आपको इसके गुर बताते हैं|  जानिए मेडिकल एंट्रेंस की तैयारी के अहम टिप्स (AIIMS MBBS 2019 Preparation Tips)|

Jee Advanced Result 2019 Declared : जेईई एडवांस्ड का रिजल्ट जारी

नीट हो या एम्स दोनों ही परीक्षाएं आसान नहीं हैं, लेकिन नीट के लिए संसाधन उपलब्ध हैं। खासतौर पर एनसीईआरटी की किताबें नीट क्वालिफाई करने में काफी मददगार होती हैं वहीं एम्स (AIIMS MBBS 2019 Preparation Tips) की तैयारी के लिए संसाधनों की थोड़ी कमी है। कोई ऐसी निश्चित किताब नहीं, जिससे आप पूरी तैयारी कर सकें। हालांकि एनसीईआरटी की किताबें इसमें भी सहायक होती हैं।

बायोलॉजी और फिजिक्स एम्स एंट्रेंस के लिए सबसे महत्वपूर्ण विषय हैं। मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए एनसीईआरटी की किताबों पर पूरा ध्यान दें। पिछले वर्षों के ज्यादा से ज्यादा सवालों को हल करें।

NCL Recruitment 2019 : नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में भर्तियाँ

इन मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं (AIIMS MBBS 2019 Preparation Tips) की तैयारी के लिए नियमित कोचिंग क्लासेस जाएं, सेल्फ स्टडी करें और ऑनलाइन टेस्ट भी देते रहें। इस बात का ज़रूर विशेष ध्यान रखें कि हर विषय को बराबर समय दे सकें।  स्कूल टाइम से ही नियमित पढ़ाई किसी भी परीक्षा में अच्छे अंकों से सफल होने के लिए बेहद ज़रूरी है।

‘टॉपर स्ट्रैटेजी’ ऐसे बनाएं  (AIIMS MBBS 2019 Preparation Tips)

AIIMS MBBS Result 2019 Live updates : जारी हुआ परिणाम, यहाँ देखें

पिछले सालों के पेपर की अपनी समझ के आधार पर आप उन चैप्टर/यूनिट्स का पता लगा सकेंगे जिससे ज्यादा सवाल पूछे गए होंगे। इनके नोट्स बना लें और रिवाइज़ करते रहें। उदाहरण के लिए बायोलॉजी की जेनेटिक्स और इवोल्यूशन बहुत अहम यूनिट है। इसी तरह से फिजिक्स में काइनेमैटिक्स, इलेक्ट्रिसिटी और मैगनेटिज्म एवं केमेस्ट्री की बात करें तो इसमें केमिकल बॉन्डिंग, कोऑर्डिनेशन केमेस्ट्री और जनरल ऑर्गैनिक केमेस्ट्री काफी अहम हैं। अगर आप इन चैप्टरों की सही से प्रैक्टिस कर लेते हैं तो आपकी सफलता के चांस बढ़ जाते हैं।

एम्स की तैयारी के लिए आपको 11वीं और 12वीं क्लास की फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ्स की किताबों का गहन अध्ययन करना होगा। हर टॉपिक्स और यूनिट्स को अच्छी तरह समझ लें। फॉर्मूले की  प्रैक्टिस के लिए उनसे संबंधित सवालों को बार-बार हल करें।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.