website counter widget

भविष्य में इस क्षेत्र में रोजगार के चमकीले अवसर

0

जल परिवहन किसी भी देश को सबसे सस्ता यातायात प्रदान करता है क्योंकि इसके निर्माण में परिवहन मार्गों का निर्माण नहीं करना पड़ता है और केवल परिवहन के साधनों से ही यातायात किया जाता है। इतना अवश्य है कि इसके लिए प्राकृतिक अथवा कृत्रिम जलपूर्ण मार्ग आवश्यक होते हैं। हमारे देश में आन्तरिक एवं सामुद्रिक दोनों प्रकार का जल परिवहन किया जाता है। आन्तरिक जल परिवहन की दृष्टि से देश में प्राचीनकाल से ही नदियों के माध्यम से यातायात किया जाता था। वर्तमान में देश में लगभग 14,500 किमी लम्बा नौगम्य जलमार्ग है, जिसमें नदियाँ, नहरें, अप्रवाही जल यथा झीलं आदि संकरी खाड़ियां शामिल हैं। जल परिवहन के क्षेत्र में करियर हमेशा से युवाओं को आकर्षित करता है| आज हम आपको इस क्षेत्र में करियर बनाने की जानकारी प्रदान करेंगे|

Physics GK in Hindi : भौतिकी से संबंधित सामान्य ज्ञान के प्रश्न

इस समय केन्द्र सरकार आंतरिक जल माल ढुलाई को तेजी से प्रोत्साहन देकर भारी दबाव से जूझ रहे सडक़ और रेल परिवहन तंत्र को राहत देने की रणनीति पर आगे बढ़ते हुए दिखाई दे रही है। इसके चलते इस क्षेत्र में रोजगार के लाखों नए अवसर भी सृजित होंगे।

। ज्ञातव्य है कि जल परिवहन क्षेत्र ने भारत में रोजगार वृद्धि में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। पिछले वर्षों में सरकार ने जल परिवहन के क्षेत्र को विकसित करने पर काफी जोर दिया है तथा जल परिवहन के विकास के क्षेत्र में बड़े पैमाने पर निवेश किया गया है। इसे देखते हुए यह कहा जा सकता है कि भविष्य में इस क्षेत्र में रोजगार के चमकीले अवसर निर्मित होंगे।

Bank Note Press Recruitment 2019 : देवास बैंक नोट प्रेस में भर्तियां

उल्लेखनीय है कि जल परिवहन के तहत मैरीन इंजीनियरिंग में बूम की स्थिति है। भारत के अलावा नार्वे, जापान, ग्रीस, फ्रांस, ब्रिटेन और सिंगापुर की बड़ी शिपिंग कंपनियों में हमेशा ही मैरीन इंजीनियरों, बंदरगाह प्रचालन इंजीनियरों, लॉजिस्टिक्स एवं नौवहन विशेषज्ञों की भारी माँग बनी रहती है और भारत से होने वाले जल परिवहन में भारी उछाल को देखते हुए आगे भी यही स्थिति बनी रहेगी। यदि आप स्वयं को आत्मविश्वास से पूर्ण, अपने दायित्वों के प्रति जागरूक तथा चुनौतियों का सामना करने में सजग व सशक्त पाते हैं जल परिवहन के क्षेत्र में आपके लिए सुनहरे अवसरों की कोई कमी नहीं है क्योंकि यह एक ऐसा क्षेत्र है जो रोमांच और उत्तेजनाओं से भरा है। जल परिवहन के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए संबंधित क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करनी होगी। इस क्षेत्र के विभिन्न पाठ्यक्रमों हेतु शैक्षणिक योग्यता भिन्न-भिन्न होती है। आप अपनी रुचि, योग्यता एवं क्षमता के हिसाब से जल परिवहन के किसी रोजगारोन्मुखी कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।

गौरतलब है कि जल परिवहन विशेषज्ञ नौवहन बंदरगाहों की योजनाएँ, डिजाइन इस प्रकार से तैयार तथा प्रचालन करते हैं जिससे लोगों और वस्तुओं का एक जगह से दूसरी जगह तक सुरक्षित तथा दक्षतापूर्वक परिवहन हो सके। वर्तमान में जल परिवहन के क्षेत्र में रोजगार के विभिन्न चमकीले अवसर हैं। उपयुक्त योग्यता रखने वाले युवा सरकारी क्षेत्र तथा निजी क्षेत्र में जल परिवहन डिजाइनरों, जल परिवहन योजनाकारों, जल परिवहन प्रचालन विशेषज्ञ के रूप में रोजगार प्राप्त कर सकते हैं। जल परिवहन क्षेत्र में उपयुक्त योग्यता रखने वाले उम्मीदवार पोर्ट ट्रस्ट तथा सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों में रोजगार प्राप्त कर सकते हैं।

GK FOR MPPSC : सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

जल परिवहन एक विशेषीकृत क्षेत्र है तथा इसमें तकनीकी कौशल की आवश्यकता होती है इसलिए विभिन्न तकनीकी कौशल विकास हेतु भिन्न-भिन्न प्रकार के रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम जैसे बंदरगाह प्रचालन, लॉजिस्टिक्स एवं नौवहन आदि विभिन्न संस्थानों में उपलब्ध हैं, जिनमें से प्रमुख संस्थान इस प्रकार हैं-

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ लॉजिस्टिक्स, चैन्नई।

सीवी रमन कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, भुवनेश्वर।

चेन्नई पोर्ट ट्रस्ट, चेन्नई।

ओसेनिक मैरीन एकेडमी, देहरादून।

इंस्टीट्यूट ऑफ मेरीटाइम स्टडी, गोआ।

कोचीन पोर्ट ट्रस्ट, कोच्ची।

हिन्दुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड, विशाखापट्टïनम।

एक्वाटेक इंस्टीट्यूट ऑफ मेरीटाइम स्टडीज, नई दिल्ली।

जल परिवहन के क्षेत्र में करियर से संबंधित विस्तृत जानकारी हेतु आप जहाजरानी महानिदेशालय, जहाज भवन, बालचंद-हीराचंद मार्ग, बलार्ड एस्टेट, मुंबई- 33 तथा मैरीन इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट पी- 19, ताराटोला रोड, कोलकाता-38 से भी संपर्क कर सकते हैं।

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.