इस दिन व्यापारी करेंगे भारत बंद

0

कुछ महीने पहले ही अमरीकी कंपनी वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट के साथ डील की थी| वहीं इस रविवार को वॉलमार्ट ने कहा कि उसने भारतीय कंपनी फ्लिपकार्ट के साथ लगभग 16 अरब डॉलर का सौदा पूरा कर लिया है और अब उसके पास फ्लिपकार्ट की 77 फीसदी हिस्सेदारी है| वॉलमार्ट भारत में अपने प्रचार-प्रसार को तेज़ी से बढ़ाने वाली है| वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट की डील का विरोध अखिल भारतीय व्यापारी संघ (कैट) द्वारा किया जा रहा है| इस वजह से 28 अगस्त को देशभर के व्यापारी पूरे देश में भारत बंद रखेंगे|

‘कैट’ ने इस बात की घोषणा करते हुए कहा कि यह डील खुदरा व्यापारियों को भुखमरी के कगार पर ला देगी| ‘कैट’ के सचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि सरकार ई-कॉमर्स कंपनियों को बढ़ावा दे रही है, जिससे खुदरा व्यापारियों की कमर टूट रही है| ऑनलाइन कंपनियां ज्यादातर ग्राहकों को काफी बड़ा डिस्काउंट देती है, जिससे उन्हें नुकसान होने पर भी डर नहीं रहता है|

‘कैट’ ने कहा है कि वे भारत बंद के अलावा इस डील के विरोध में 15 सितंबर से पूरे देश में रथयात्रा भी शुरू करेंगे| इस रथयात्रा के समापन पर 16 दिसंबर को एक बड़ी रैली का भी आयोजन किया जाएगा, जिसमें पूरे देश के व्यापारी संगठन हिस्सा लेंगे|

‘कैट’ की यह आमसभा नागपुर में आयोजित की गई थी, जिसमें देशभर के 200 व्यापारी संगठनों ने हिस्सा लिया था| व्यापारियों ने फैसला किया है कि आगामी 28 अगस्त को बंद के दौरान सभी व्यापारी अपने प्रतिष्ठानों को बंद रखेंगे और अपने-अपने जिलों में ई-कॉमर्स कंपनियों के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे|

Share.