स्विस बैंक में 50 % बढ़ा भारतीयों का पैसा

0

देश में जहां एक ओर काला धन निकालने के दावे किए जा रहे हैं वहीं स्विस बैंक की एक रिपोर्ट सरकार के सभी दावों को ग़लत साबित कर रही है| नोटबंदी के समय से ही कहा जा रहा है कि देश का काला धन वापस लाया जाएगा, लेकिन उल्टे विदेशों में जमा काला धन और बढ़ता जा रहा है|

भारतीयों का स्विस बैंक में जमा धन चार साल में पहली बार बढ़कर पिछले साल एक अरब स्विस फ्रैंक (7,000 करोड़ रुपए) के दायरे में पहुंच गया है, जो एक साल पहले की तुलना में 50 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है| स्विट्जरलैंड के केंद्रीय बैंक के ताजा आंकड़ों में यह बात सामने आई है| इसके अनुसार, भारतीयों द्वारा स्विस बैंक खातों में रखा गया धन 2017 में 50% से अधिक बढ़कर 7000 करोड़ रुपए (1.01 अरब फ्रैंक) हो गया है| स्विस नेशनल बैंक (एसएनबी) के सालाना आंकड़ों के अनुसार, स्विस बैंक खातों में जमा भारतीय धन 2016 में 45 प्रतिशत घटकर 67.6 करोड़ फ्रैंक (लगभग 4500 करोड़ रुपए) रह गया| एक तरफ भारतीयों के पैसे में बढ़ोतरी हुई है तो वहीं पाकिस्तानियों की जमापूंजी में करीब 21 फीसदी की गिरावट आई है|

इससे पहले तीन साल यहां के बैंकों में भारतीयों के जमा धन में लगातार गिरावट आई थी| अपनी बैंकिंग गोपनीयता के लिए पहचान बनाने वाले इस देश में भारतीयों के जमाधन में ऐसे समय दिखी बढ़ोतरी हैरान करने वाली है जबकि मोदी सरकार विदेशों में कालाधन रखने वालों के खिलाफ अभियान चलाने का दावा करती आ रही है|

Share.