RBI ने बदला ऑनलाइन ट्रांजेक्शन का नियम, जरूर पढ़ें

0

उपभोक्ताओं की हर जरूरत को ध्यान में रखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के नियमों में बदलाव किया है। भारतीय रिजर्व बैंक के इस नए नियम से अब आम आदमी को काफी रहत मिलेगी। आरबीआई ने आरटीजीएस (RBI Extends RTGS Timing) के माध्यम से पैसे भेजने के समय में वृद्धि कर दी है। आरबीआई ने इसका समय डेढ़ घंटे बढ़ा दिया है। यह नया नियम 1 जून से लागू कर दिया जाएगा।

परिवार को इस तरह मिलता है पेंशन योजना का लाभ

गौरतलब है कि मौजूदा समय में आरटीजीएस (RBI Extends RTGS Timing) के माध्यम से शाम साढ़े 4 बजे तक ही पैसे का ट्रांजेक्शन किया जा सकता है। लेकिन अब इसका समय बढ़ा दिए जाने के बाद शाम 6 बजे तक उपभोक्ता ऑनलाइन ट्रांजेक्शन कर सकेंगे। इस सुविधा से आम आदमी को काफी लाभ होगा। रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) सुविधा के माध्यम से ट्रांजेक्शन तत्काल होता है। इस सुविधा का उपयोग बड़ी राशि को हस्तांतरित करने के लिए किया जाता है। इसके तहत न्यूनतम 2 लाख रुपए और अधिकतम कितनी भी बड़ी रकम भेजी जा सकती है।

OMG : बस एक शर्त पर मात्र 77 रुपए में मिलेगा घर

लेकिन अभी तक शाम साढ़े 4 बजे तक ही इस सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है। कई बार लोगों को शाम के समय रकम भेजना पड़ती है और उन्हें काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। उपभोक्ताओं की इस परेशानी को देखते हुए आरबीआई ने अपने नियमों में बदलाव कर इसका समय डेढ़ घंटे बढ़ा दिया है। RBI की तरफ से जारी अधिसूचना में कहा गया है, “आरटीजीएस में ग्राहक लेनदेन के लिए समय को शाम साढ़े चार बजे से बढ़ाकर 6 बजे करने का फैसला किया है। आरटीजीएस के तहत यह सुविधा एक जून से मिलेगी।” इसके अलावा उपभोक्ता नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) के जरिए भी पैसे का लेन-देन कर सकते हैं। इस सुविधा में भी राशि भेजने की कोई न्यूनतम या अधिकतम सीमा नहीं है।

60,000 रुपये सालाना पेंशन की गारंटी, उठाएं योजना का लाभ

Share.