“स्टाम्प ड्यूटी को करें जीएसटी में शामिल”

0

लोकसभा चुनाव को लगभग तीन माह ही बचे हैं, इसके मद्देनज़र सभी जनहित के कार्य कर लोगों को अपनी ओर करने का प्रयास कर रहे हैं| चुनाव में जीत की तैयारियों में सभी दल जुट चुके हैं। वहीं मौजूदा सरकार का भी हरसंभव प्रयास है कि वह लोगों को खुश रख सकें ताकि जनता उन्हें दोबारा मौका दे|

गौरतलब है कि फ़रवरी माह के अंत में बजट पेश किया जाएगा और सरकार अपने बजट के माध्यम से हर वर्ग के लोगों को खुश करने की कवायद में जुटी है। मोदी सरकार का यह आखिरी बजट है और इसी वजह से उसका पूरा फोकस सभी वर्गों को संतुष्ट करने पर है। इसे लेकर सभी क्षेत्रों के लोगों का भी प्रयास है कि वे सरकार से अपना कार्य निकलवा लें|

अब रीयल एस्टेट क्षेत्र ने सरकार से बजट-2019  में करों में सुधार, स्टाम्प शुल्क को जीएसटी में समाहित करने तथा मकान खरीदने वालों द्वारा गृह ऋण पर चुकाए गए ब्याज पर कर कटौती की सीमा बढ़ाने की सिफारिश की है।

रीयल एस्टेट क्षेत्र के संगठन नारेडको के अध्यक्ष निरंजन हीरानंदानी ने व्यक्तिगत आयकर में आवास ऋण पर ब्याज की कटौती को सालाना तीन लाख रुपए तक किए जाने की मांग की है । अभी आवास ऋण पर चुकाए गए दो लाख रुपए तक के ब्याज की कटौती का लाभ मिलता है। उन्होंने कहा, “रीयल एस्टेट उद्योग बजट में करों को तर्कसंगत बनाने की उम्मीद कर रहा है। इस समय उद्योग के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण है और इससे पूरी अर्थव्यवस्था में तेजी आएगी।  मैं बजट से यह भी उम्मीद करता हूं कि इसमें स्टाम्प शुल्क को जीएसटी के घेरे में लाया जाएगा, किरायेदारी की प्राप्ति पर निर्माण सामग्री पर चुकाए गए करों का लाभ (आईटीसी) का प्रावधान किया जाएगा और 2022 तक सबको आवास के लक्ष्य के लिए किराये के मकानों की परियोजनाओं को प्रोत्साहन दिया जाएगा।’’

हीरानंदानी ने कहा कि सिर्फ कराधान कम करना ही जरूरी नहीं है, बल्कि करों को तर्कसंगत बनाने से एक अनुकूल और सकारात्मक माहौल बनेगा, जिससे अर्थव्यवस्था में कारोबार के नए अवसर पैदा होंगे।

इस क्षेत्र की इकाइयों का कहना है कि इस क्षेत्र पर लागू होने वाले करों को तर्कसंगत बनाना उनके कारोबार की दृष्टि से ‘बहुत महत्वपूर्ण है’ और इसके साथ साथ बजट में किफायती दर की आवास परियोजनाओं को और प्रोत्साहन दिया जाना चाहिए।

लोकसभा चुनाव को दृष्टिगत रखते हुए अब सरकार रीयल एस्टेट क्षेत्र से जुड़े उद्योगपतियों, बिल्डरों और अन्य लोगों की सिफारिशों पर ध्यान देगी या नहीं, यह तो बजट आने पर ही पता लगेगा|

एलआईसी ग्राहकों को बड़ी खुशखबरी

पेट्रोल-डीज़ल – आज का भाव

सोना-चांदी : आज के दाम

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.