GST का फर्जी बिल बनाने वाले, जेल में….

0

देश भर में GST लागू हुए 2 साल पूरे हो चुके हैं और लोग अभी भी फर्जी बिल (GST Council Will Strict Action Against Fake Bills Makers) बनाकर टैक्स की चोरी कर रहे हैं। GST के 2 साल के पूरे होने पर सरकार ने फर्जी बिल बनाकर टैक्स चोरी करने वालों के लिए चेतावनी जारी की है। GST के 2 साल पूरे होने पर आयोजित एक कार्यक्रम में राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर की तरफ से एक चेतावनी जारी की गई। अनुराग ठाकुर ने इस दौरान कहा कि टैक्स चोरी करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

अब बैंक रोजाना देगा 100 रुपए, RBI ने जारी किया आदेश

इस दौरान अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार इस बात को सुनिश्चित करेगी कि सरकारी ख़ज़ाने को किसी भी तरह का कोई नुकसान न पहुंचे। इतना ही नहीं सरकार इस बात का भी पूरा ध्यान रखेगी कि ईमानदारी से टैक्स भरने वाले करदाताओं को किसी भी तरह की कोई परेशानी न उठानी पड़े। उन्होंने आगे कहा कि जो लोग फर्जी बिल (GST Council Will Strict Action Against Fake Bills Makers) बनाकर टैक्स चोरी कर रहे हैं और सरकारी ख़ज़ाने को नुकसान पहुंचा रहे हैं, उन पर अंकुश लगाया जाना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि इन्हीं लोगों की वजह से पूरे व्यापारी वर्ग पर उंगली उठाई जाती है। इस वजह से ईमानदार करदाताओं को तो परेशानी उठानी ही पड़ती है साथ ही सर्कार को भी राजस्व का नुकसान वहन करना पड़ता है।

इन तरीकों से करें अपना ITR वेरिफिकेशन

अब GST परिषद आगामी 1 जनवरी से बी2बी बिक्री में इलेक्ट्रानिक बिल प्रणाली को शुरू करने जा रही है। GST परिषद का कहना है कि इलेक्ट्रानिक बिल प्रणाली के लागू हो जाने से फ़र्ज़ी बिल पर अंकुश लगेगा, इसी वजह से अब परिषद का लक्ष्य आगामी एक जनवरी से इस प्रणाली को देश भर में शुरू करना है। इसे लेकर GST परिषद ने एक नारा भी दिया है। परिषद का नारा है “ईमानदार करदाता से बैर नहीं और फर्जी बिल वालों की खैर नहीं।” इतना ही नहीं परिषद ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि ईमानदार करदाताओं को किसी भी तरह की कोई भी परेशानी नहीं होना चाहिए, इस बात का पूरा ध्यान रखा जाए।

क्या सच में महंगा हो गया है Paytm से पेमेंट करना? जाने सच

Share.