…तो 35,000 रुपए हो जाएगी सोने की कीमत!

0

दुनिया भर में कोरोना (Coronavirus havoc) का खौफ फैला हुआ है और इस वायरस की वजह से दुनियाभर की अर्थव्यवस्था गड़बड़ा गई है। (Gold Silver Prices May Decrease) दुनियाभर के बाजार में भारी गिरावट आई है। वहीं आमतौर पर सोने को हमेशा ही सबसे सुरक्षित निवेश के रुप में देखा जाता है। जब भी बाजार में मंदी का साया आता है, तब लोग सीधे सोने में निवेश करते हैं, जिससे उनका फंड या निवेश सुरक्षित हो जाता है। अर्थात लोग निवेश में जोखिम को कम करने के लिए सोना खरीदते हैं, जिससे इसके भाव में तेजी आती है। लेकिन इस समय में यह अवधारणा बिल्कुल गलत साबित हो रही है। इक्विटी बाजारों में जबरदस्त गिरावट के साथ ही सेफ हैवन समझे जाने वाले सोने और चांदी (Gold Silver Prices May Decrease) की कीमतों में भी अप्रत्याशित गिरावट देखने को मिल रही है। तो आखिर ऐसा क्या हुआ कि इन पांच दिनों में देखते ही देखते सोने के दाम 5 हज़ार रुपए तक टूट गए। और क्या आने वाले दिनों में सोना और भी सस्ता होगा? चलिए जानते हैं।

अमेरिका ने तैयार की Coronavirus की दवा, आज से ट्रायल शुरू

क्या है सोने के भाव में गिरावट का कारण…?

आमतौर पर हमेशा जिस कारण से सोने (Gold Silver Prices May Decrease) के दामों में तेजी आती है, इस समय वही सोने में गिरावट की वजह बना हुआ है। दुनिया भर में औद्योगिक गतिविधियों में कमी आने और वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुस्ती के संकेतों के बीच इक्विटी बाजारों में ऐतिहासिक गिरावट हुई है। इससे निवेशकों के सामने एक बड़ा संकट पैदा हो गया है। मार्जिन भरने के लिए निवेशक पैसा निकाल रहे हैं और इसमें सोना निवेशकों के लिए एक बेस्ट विकल्प बना है। निवेशक इसमें प्राॅफिट बुकिंग कर रहे हैं। यही कारण है कि सोने की कीमतों में जबरदस्त गिरावट देखने को मिल रही है।

Coronavirus की वजह से निवेशकों के डूबे 11.42 लाख करोड़ रुपए

ट्रेडिंग के दौरान 05 सत्रों में 6,500 रुपये तक गिरा भाव

एमसीएक्स (MCX) एक्सचेंज पर सोने का वायदा भाव 06 मार्च 2020 को 44,961 रुपये प्रति 10 ग्राम था। इक्विटी (Gold Silver Prices May Decrease) बाजारों में जबरदस्त गिरावट के कारण प्राॅफिट बुकिंग के चलते 16 मार्च 2020 यानी सोमवार को इसका भाव 38,400 रुपये प्रति 10 ग्राम तक आ गया। इस तरह ट्रेंडिंग के दौरान सोने का वायदा भाव सिर्फ पांच सत्रों में 6,500 रुपये तक गिरा।

चांदी में गिरावट का जबरदस्त दौर

सोने की तरह ही चांदी (Gold Silver Prices May Decrease) को भी बेस इकोनॉमी माना जाता है। बेस्ट थर्मल और इलेक्ट्रिकल कंडक्टर होने के कारण औद्योगिक क्षेत्र में चांदी का उपयोग बड़ी मात्रा में होता है। मोबाइल जैसे इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों और सोलर पैनल्स आदि में इसका उपयोग होता है। चीन (Coronavirus from China) में औद्योगिक उत्पादन ठप होने के चलते वहां चांदी की खपत बेहद कम हो गई है। ऐसी ही स्थिति कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित अन्य देशों में है। खपत की कमी ने चांदी के दामों में ऐतिहासिक गिरावट ला दी है। साथ ही निवेशकों द्वारा प्रोफिट बुकिंग करना भी चांदी के भाव में गिरावट का एक बड़ा कारण है।

02 महीनों में 15,000 रुपए टूटी चांदी

कोरोना वायरस (Coronavirus  Outbreak)  के चलते औद्योगिक क्षेत्र में चांदी की खपत में कमी के कारण चांदी (Gold Silver Prices May Decrease) में भारी गिरावट दर्ज की गई है। एमसीएक्स एक्सचेंज (Multi Commodity Exchange) पर चांदी का वायदा भाव 08 जनवरी 2020 को 49,423 रुपये प्रति किलोग्राम पर था, जो सोमवार 16 मार्च 2020 को 33,756 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर तक आ गया। इस तरह करीब दो महीनों में चांदी में 15,000 रुपये से अधिक की गिरावट देखने को मिली। सोमवार को चांदी में 16 फीसद की गिरावट दर्ज की गई थी, जो कि एमसीएक्स (MCX) के इतिहास में चांदी में एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट थी।

कोरोना खत्म होने पर बढ़ेंगे भाव?

आम लोगों के लिए सोने (Gold Silver Prices May Decrease) का विकल्प समझी जाने वाली चांदी में इस समय भारी मंदी देखने को मिल रही है। जैसे ही इकोनॉमी पटरी पर आने लगेगी और चांदी की फिजिकल डिमांड में बढ़ोत्तरी होगी, तो उसके साथ ही चांदी के भाव में भी तेजी आनी शुरू हो जाएगी।

शादियों के सीजन में कैसा रहेगा सोने का भाव?

अभी सोने में 1,000 से 1,500 रुपये तक की गिरावट और देखने को मिल सकती है। लेकिन, शादियों का सीजन शुरू होने से सोने के घरेलू भाव में इजाफा देखने को मिल सकता है।

निवेश करें या नहीं?

एक आम व्यक्ति के निवेश पोर्टफोलियो (Gold Silver Prices May Decrease)  को यदि हम देखें तो उसके निवेश में 20 प्रतिशत सोना शामिल होना चाहिए। ऐसे में यदि आपके पोर्टफोलियो में सोना कम है या फिर आप सोने में निवेश के लिए मन बना रहे हैं। तो यह आपके लिए सही समय है। अभी सोने के दाम और भी थोड़े कम हो सकते हैं। ऐसे में आप सोना खरीदकर उसे भविष्य के लिए सुरक्षित निवेश में बदल सकते हैं।

आखिर कौन हैं Coronavirus की भविष्यवाणी करने वाली Sylvia Brownie

Rahul Tiwari / Prabhat

Share.