बड़ी इलेक्ट्रॉनिक कंपनी होगी नीलाम

0

देश में इलेक्ट्रॉनिक्स सामान बनाने वाली कंपनी जल्द ही नीलाम होने वाली है| स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के नेतृत्व में वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज को कर्ज देने वाले बैंकों ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) में शिकायत कर कंपनी को दिवालिया घोषित करने की मांग की है| एनसीएलटी ने इस मांग को स्वीकार कर लिया है| 

अब वीडियोकॉन बैंकरप्सी कोड के तहत एनसीएलटी के दायरे में आ गई है| अगले 180 दिनों में बोली के जरिये कंपनी के लिए नए मालिक की तलाश शुरू हो सकती है| जानकारी के अनुसार, कंपनी पर बैंकों का करीब 20,000 करोड़ रुपए का कर्ज बकाया है| वीडियोकॉन टेलीकॉम के खिलाफ बैंकरप्सी कोर्ट में दायर अर्जी पर सुनवाई हो सकती है| बाज़ार में कंपनी का मामूली कारोबार है|

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, वीडियोकॉन ग्रुप की करीब एक दर्जन कंपनियों पर 44,000 करोड़ का कर्ज है| सभी के खिलाफ लेनदारों ने मामला कोर्ट में डाला है| एनसीएलटी के अलावा आरबीआई ने भी दिवालिया संहिता के तहत कर्ज समाधान वाली सूची में कंपनी को रखा है|

Share.