Income Tax  के नियमों में बड़े बदलाव, जानें

0

यह वर्ष समाप्त होने वाला है और इस वर्ष ऐसे कई बदलाव हुए हैं, जो आने वाले वर्ष के लिए उपयोगी होंगे| आज हम आपको इस साल हुए ऐसे ही नियमों के बारे में बता रहे हैं ताकि नए वर्ष (Income Tax Rule 2018-19) में आपको फाइनेंशियल प्लानिंग करते समय कोई परेशानी न हो|

इनकम टैक्स रिटर्न में सुधार (Income Tax Rule 2018-19)

इस साल यह नियम आया था कि यदि टैक्स रिटर्न भरने में आपने किसी तरह की गलती की है तो उसका सुधार फाइनेंशियल ईयर में ही करना होगा|

रिटर्न में देरी

यदि आपने नए साल में इनकमटैक्स रिटर्न भरने में देरी की तो आपके पेनल्टी का भुगतान करना होगा, जो एक हजार रुपए से लेकर 10 हजार रुपए तक हो सकती है|

स्टैंडर्ड डिडक्शन का लाभ

आपको टैक्स रिटर्न भरते समय 40000 रुपए का स्टैंडर्ड डिडक्शन का लाभ भी मिलेगा, लेकिन इसके बदले मिलने वाला मेडिकल खर्च और ट्रांसपोर्ट अलाउंस हटा दिया गया है|

सेस में वृद्धि

इस साल आयकर विभाग ने सेस में 1% की बढ़ोतरी की है| पहले सेस 3 प्रतिशत लगता था, जो अब 4 प्रतिशत कर दिया गया है|

सीनियर सिटीजन को राहत

आयकर की धारा 80टीटीबी के अंतर्गत ब्याज से होने वाली आय पर 50000 रुपए तक टीडीएस नहीं देना होगा| बैंक ने यह राशि काट ली हो तो रिटर्न फाइल करके इसे वापस लिया जा सकता है|

35 से कम उम्र वालों को नहीं देना होगा इनकम टैक्स!

इनकम टैक्स भरने की तारीख में मिली छूट

अगर आप हैं ईमानदार टैक्स पेयर तो आप को सरकार देगी वीआईपी सुविधा

Share.