एयरलाइंस बढ़ा सकती हैं किराया

0

पिछले महीने सरकार की ओर से तैयार ड्राफ्ट ‘न्यू पैंसेजर राइट्स चार्टर’प्रस्ताव में प्रावधान है कि टिकट के कैंसल होने की स्थिति में पूरा रिफंड करना होगा| यदि यह लागू हो जाता है तो इसके कारण होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए एयरलाइंस हवाई किराये में बढ़ोतरी कर सकती है|  प्राइवेट एयरलाइन के एक एग्ज़ीक्यूटिव ने बताया कि बुकिंग के 24 घंटे के अंदर टिकट वापस करने पर यात्री को पूरा किराया वापस करने का फैसला प्राइसिंग स्ट्रेटेजी को अपसेट करने वाला है क्योंकि इसके चलते ही इंडस्ट्री की ओर से कम किराया चार्ज किया जाता है। ऐसी स्थिति में हवाई किराये को रिफंड से होने वाले रेवेन्यू नुकसान के कारण बढ़ाना होगा|

सरकार का ऐसा अनुमान है कि करीब 7 फीसदी हवाई टिकट भारत में कैंसल किया जाता है| ऐसा माना जाता है कि कैंसल टिकट यात्रा के समय नहीं भरा गया| एक सरकारी अधिकारी सूत्र ने बताया कि एयरलाइंस कंपनियों का रिफंड से नुकसान को रिकवर करने में उसे 200 से 400 रुपए किराया महंगा करना पड़ता है| 180 सीटों वाले एयरक्राफ्ट, जो करीब 5,000 रुपए में टिकट बेचता है, यदि उसमें 7 फीसदी टिकट फुल रिफंड के साथ कैंसल किया जाता है, उसके बावजूद 63,000 प्रति फ्लाइट का फायदा होगा|

Share.