X

ब्लैकबेरी ने किया कंपनियों पर मुकदमा

0

1,945 views

आज कल लोग फेसबुक, व्हाट्सएप जैसे मैसेंजर का अत्यधिक उपयोग कर रहे हैं| लोग इन एप्स के आदि हो चुके हैं| यदि ये एप बंद हो जाएं तो लोगों की आधुनिक ज़िन्दगी में अचानक हड़कंप मच जाएगा| मोबाइल निर्माता कंपनी ब्लैकबेरी ने व्हाट्सएप, फेसबुक जैसे चैटिंग एप के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है| कंपनी इन एप्स को बंद करने की मांग कर रही है| इस मामले को लेकर ब्लैकबेरी चर्चा में आ गया है|

ब्लैकबेरी ने फेसबुक मैसेंजर, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम के लिए उपयोग की जाने वाली तकनीक की चोरी का आरोप लगाया है| ब्लैकबेरी का कहना है कि सोशल मीडिया पर अपने लोकप्रिय इंस्टेंट मैसेजिंग एप में ब्लैकबेरी की तकनीक इस्तेमाल कर रही है|

बता दें कि, वर्ष  2000  में ब्लैकबेरी का मैसेंजर एप ‘ब्लैकबेरी मैसेंजर’ काफी लोकप्रिय हुआ था| कंपनी ने कहा कि, “हम कड़े दावे के साथ कह सकते हैं कि फेसबुक ने हमारी इंटलैक्चुअल प्रॉपर्टी की चोरी की है|”

ब्लैकबेरी चाहती है कि, फेसबुक अपना प्राइमरी एप बंद कर दे| इसी के साथ कंपनी का यह भी कहना है कि फेसबुक मैसेंजर, वर्कप्लेस चैट, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम को भी बंद किया जाए| वहीं कंपनी ने फेसबुक पर यह भी आरोप लगाया है कि फेसबुक ने ब्लैकबेरी के कई सारे फीचर चुराए हैं|

ब्लैकबेरी द्वारा लगाए गए इन आरोपों पर फेसबुक के डेप्युटी जनरल काउंसिल, पॉल ग्रेवाल ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि ब्लैकबेरी के मैसेजिंग बिजनस के मौज़ूदा स्तर से इन आरोपों की वजह साफ होती है| कुछ नया खोजने की जगह अब ब्लैकबेरी दूसरे के इनोवेशन पर टैक्स लगाने के लिए जोड़-तोड़ कर रही है| अब हम जंग लड़ेंगे और मैदान में खड़े होंगे|”

Share.
33