सीएम वसुंधरा की राजस्थान गौरव यात्रा शुरू

0

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधराराजे की राजस्थान गौरव यात्रा शनिवार को राजसमंद जिले के चारभुजानाथ से रवाना हुई। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ चारभुजा मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद सीएम वसुंधरा रथ पर सवार हुईं और शाह ने हरी झंडी दिखाकर यात्रा को रवाना किया। इसके बाद अमित शाह और सीएम वसुंधरा कांकरोली जेके स्टेडियम स्थिल सभास्थल के मंच पर पहुंचे। मुख्यमंत्री ने मंच पर अमित शाह का स्वागत किया। अमित शाह ने मंच पर बटन दबाकर विकास कार्यों एवं विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण किया। इस दौरान सीएम राजे और भाजपा अध्यक्ष ने जनसभा को संबोधित किया।

आइए जानें सीएम वसुंधरा के भाषण की कुछ खास बातें

– विश्वास है हमें फिर आशीर्वाद मिलेगा।

– कांग्रेस ने किसानों के लिए सिर्फ बात की है, किया कुछ नहीं।

– महिलाओं के लिए हमारी सरकार ने बहुत काम किया है।

– जहां महिला का सम्मान नहीं होगा, वह प्रदेश आगे नहीं बढ़ सकता।

– भाजपा ने जितने भी काम किए, उसका सारा रिकॉर्ड है।

– कांग्रेस ने सिर्फ देश को लूटा है।

– कांग्रेस ने जिस राजस्थान को बीमारू राज्य बनाया था, उसे अब अग्रणी राज्य बनाना भाजपा ने शुरू किया।

– भाजपा चुनाव में 180 सीटों पर कब्जा कर सरकार बनाएगी।

जाने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के भाषण की कुछ खास बातें   

– मैं राजस्थान की जनता को हिसाब देने आया हूं, पीएम मोदी और वसुंधरा के काम बताने आया हूं।

– राहुल बाबा जब राजस्थान आए तो उन्हें भी जवाब देना होगा।

– पीएम नरेंद्र मोदी ने राजस्थान की जनता के लिए कई योजनाएं दी।

– मोदी सरकार ने 116 योजनाएं जनता के लिए बनाई, जिन्हें सीएम वसुंधरा ने नीचे तक पहुंचाने का काम किया है।

– कांग्रेस को बांग्लादेशियों में वोटबैंक दिख रहा है, भाजपा वोट बैंक के आधार पर नहीं चलती।

– राहुल राजस्थान आए तो उनसे पूछना कि उन्होंने विकास के लिए क्या किया।

– राजस्थान बीमारू राज्य था, आज विकसित बनने जा रहा है।

– ऊपर मोदीजी हैं, राजस्थान में सीएम वसुंधरा है। इसी जोड़ी को 2018 और 2019 में बनाए रखना है।

सीएम वसुंधरा की यह तीसरी चुनाव यात्रा है, जो चारभुजानाथ से रवाना हुई। 40 दिन में वसुंधरा 6054 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और 200 में से 165 विधानसभा क्षेत्रों को कवर करेगी। वसुंधरा का प्रदेश के 8 मंदिरों में भी जाने का भी कार्यक्रम है।

यह है यात्रा का कार्यक्रम

– उदयपुर : 4 से 10 अगस्त

– भरतपुर : 16 से 20 अगस्त

– जोधपुर : 23 से 29 अगस्त

– बीकानेर : 2 से 7 सितंबर

– कोटा : 10 से 13 सितंबर

– जयपुर : 16 से 20 सितंबर

– अजमेर : 23 से 30 सितंबर

इन मंदिरों में जाएंगी सीएम वसुंधरा

– भरतपुर के गणेश मंदिर रणथंभौर

– जोधपुर के तनोट माता

– बीकानेर के सालासर बालाजी

– कोटा के केशव मंदिर

– जयपुर के पिपलाज मां मंदिर

– अजमेर के ब्रह्मा मंदिर

वसुंधरा ने बदला अपनी यात्रा का नाम…

वसुंधरा के खिलाफ सरपंचों ने खोला मोर्चा

 

Share.