ये हैं भाजपा की चमत्कारी सीटें, कांग्रेस का जीतना मुश्किल

0

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव नज़दीक आते जा रहे हैं। दलों ने अपनी कवायद तेज़ कर दी है। पंद्रह सालों से सत्ताधारी भाजपा को रोकने के लिए भाजपा से लेकर अन्य दल लगे हुए हैं, लेकिन कई ऐसी सीटें हैं, जहां भाजपा को हराना एक चुनौतीपूर्ण कार्य है। प्रदेश की विदिशा जिले की सीट भाजपा के लिए चमत्कारी सीट है। 2013 विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने विदिशा सीट से चुनाव लड़ा था। हालांकि चुनाव जीतने के बाद उन्होंने यह सीट छोड़ दी।

भाजपा के लिए विदिशा कितना महत्वपूर्ण है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 29 सालों से लगातार विदिशा लोकसभा सीट पर भाजपा का कब्जा है। सीएम शिवराज सिंह 5 बार विदिशा से सांसद रह चुके हैं। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का भी लोकसभा क्षेत्र रहा है। वहीं विदेशमंत्री सुषमा स्वराज दो बार से विदिशा लोकसभा सीट से सांसद हैं। फिलहाल विदिशा की पांच विधानसभा सीटों में से 3 पर भाजपा का कब्जा है|

विदिशा में सीटों की स्थिति

– कल्याणसिंह दांगी, (विधायक भाजपा), विदिशा

– सूर्यप्रकाश मीणा, (विधायक भाजपा), शमशाबाद

– वीरसिंह पवार, (विधायक भाजपा), कुरवाई

– गोवर्धन उपाध्याय,(विधायक कांग्रेस), सिरोंज

– निशंक जैन, (विधायक कांग्रेस), गंजबासौदा

Share.