27 सितंबर को वोटर लिस्ट का अंतिम प्रकाशन

0

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और मिजोरम में फोटोयुक्त वोटर लिस्ट के द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण की प्री-रिवीजन कार्रवाई और पुनरीक्षण कार्यक्रम शुरू हो गया है। गौरतलब है कि इन सभी राज्यों में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं। मध्यप्रदेश में 230 सीटों पर, छत्तीसगढ़ में 90, राजस्थान में 200 और मिजोरम में 40 सीटों पर चुनाव होंगे।

कार्यक्रम के संचालन के लिए अधिकारियों को ट्रेनिंग के साथ ही सामग्री भी उपलब्ध करवाई गई है। प्री-रिविजन और पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत 20 जून तक बूथ लेवल अधिकारी घर-घर जाकर मतदातओं का सत्यापन करेंगे। मतदान केंद्रों का युक्तियुक्तकरण और मतदान केंद्र भवनों का भौतिक सत्यापन 21 जून से 20 जुलाई तक होगा। पूरक सूची की तैयारी और मतदाता सूची के एकीकृत एवं प्रारूप की तैयारी 21 जुलाई से 30 जुलाई तक होगी। पुनरीक्षण कार्रवाई 31 जुलाई को होगी। कार्रवाई में एकीकृत मतदाता सूची प्रारूप का प्रकाशन होगा।

निर्वाचक नामावली के प्रारूप प्रकाशन के बाद 31 जुलाई से 21 अगस्त तक दावे-आपत्तियां ली जाएंगी। दावे-आपत्तियों का निराकरण 20 सितंबर के पहले कर लिया जाएगा। डाटाबेस की अद्यतन या पूरक सूची का मुद्रण 26 सितंबर तक कर लिया जाएगा। इसके बाद 27 सितंबर को वोटर लिस्ट का अंतिम प्रकाशन होगा।

Share.