कांग्रेस के गढ़ में ‘मामा’ का दांव

0

मध्यप्रदेश में चुनावी हलचल बेहद तेज़ हो गई है। जहां भाजपा चौथी बार राज्य में अपनी सत्ता कायम रखने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है तो वहीं कांग्रेस अपने 15 वर्षों के वनवास को ख़त्म करने पर आमादा है। अब यह तो जनता पर निर्भर करता है कि वह किस पार्टी के हाथों में राज्य की सत्ता सौंपती है। क्या एक बार फिर ‘मामा’ का राजतिलक होगा या फिर कांग्रेस का राजतिलक होगा। परिणाम जो भी हो फिलहाल तो दोनों ही पार्टियां मतदाताओं को लुभाने के लिए एक से एक वादे कर रही हैं। ऐसे में कांग्रेस के किले को भेदने के लिए शिवराज मामा ने कांग्रेस के गढ़ में ऐलान किया कि यदि इस बार भी भाजपा की सरकार बनती है तो वे मुस्लिम को मंत्री बना देंगे।

गौरतलब है कि कांग्रेस का गढ़ कहे जाने वाले भोपाल उत्तर विधानसभा में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रोड शो किया। अपने रोड शो के दौरान शिवराज ने कहा कि यदि इस बार भी भाजपा सरकार सत्ता में आती है तो मुस्लिम प्रत्याशी को मंत्री बनाऊंगा। भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस के गढ़ से प्रदेश की एकमात्र मुस्लिम प्रत्याशी फातिमा रसूल सिद्दीकी को टिकट दिया है। भाजपा प्रत्याशी फातिमा कांग्रेस के आरिफ अकील को चुनौती दे रही है। अकील इस सीट से विधायक हैं। कांग्रेस के इस किले को भेदने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने रोड शो की सफलता के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी है।

शिवराजसिंह के साथ फातिमा रसूल सिद्दीकी भी रथ पर सवार थीं। अपने रोड शो के दौरान शिवराज ने कहा कि उनकी सरकार बनने पर इस बार एक मुस्लिम चेहरा उनकी कैबिनेट में शामिल होगा और इसी वजह से फातिमा को पार्टी ने टिकट दिया है। रोड शो के दौरान कई जगह पर शिवराजसिंह का जोरदार स्वागत किया गया। इस रोड शो की शुरुआत डीआईजी बंगले से की गई। इस रोड शो में मुख्यमंत्री के साथ महापौर आलोक शर्मा और प्रत्याशी फातिमा भी थीं। शिवराजसिंह खुद भी बुधनी से प्रत्याशी हैं, लेकिन पार्टी के स्टार प्रचारक होने के नाते उन्हें दूसरे प्रत्याशियों के लिए भी ताबड़तोड़ प्रचार करना पड़ रहा है। इसी वजह से गुरुवार को मुख्यमंत्री ने 4 जगह अपने प्रत्याशियों के लिए जोरदार प्रचार किया।मुख्यमंत्री शिवराजसिंह ने उत्तर भोपाल में फातिमा रसूल के लिए प्रचार किया| इसके अलावा भोपाल मध्य विधानसभा सीट से सुरेन्द्रनाथ सिंह, भोपाल दक्षिण पश्चिम सीट से उमाशंकर गुप्ता और नरेला से विश्वास सारंग के लिए भी धुआंधार प्रचार किया।

Share.