website counter widget

मुख्यमंत्री पर संग्राम, कांग्रेस में कोहराम

0

राजस्थान की राजनीति में भूचाल आ चुका है, कोहराम मच गया है, हंगामा और नारेबाजी जारी है। इन सभी के बीच कांग्रेस के आलाकमान अपने दिल्ली स्थित आवास पर बैठक कर रहे हैं। राजस्थान में इतनी खीचातानी आखिर किस बात की? अशोक गहलोत और सचिन पायलट के समर्थक आपस में ही भिड़ रहे हैं, हाथापाई और मारपीट कर रहे हैं। लेकिन आलाकमान इसी दुविधा में फंसे हैं कि आखिर किसे गद्दी पर बैठाया जाए और किसे इससे दूर रखा जाए।

अशोक गहलोत और पायलट आलाकमान से मुलाकात करने सुबह-सुबह ही दिल्ली पहुंचे थे। राहुल गांधी ने दोनों से मुलाक़ात भी की और इस दौरान प्रियंका गांधी एवं सोनिया गांधी भी उपस्थित हुईं। इस मुलाकात के बाद गहलोत जयपुर के लिए रवाना हो गए। सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि अशोक गहलोत मुख्यमंत्री की इस रेस में सबसे आगे हैं, लेकिन अभी तक किसी के भी नाम की औपचारिक घोषणा नहीं हुई है। अशोक गहलोत रात 8 बजे जयपुर पहुंचेगे। गहलोत और पायलट के समर्थकों का अब सब्र जवाब दे रहा है।

समर्थकों के सब्र का बांध अब टूटता जा रहा है, इसी का एक उदाहरण करौली में देखने को मिला। करौली में पायलट के समर्थकों ने ट्रैफिक रोककर आगजनी कर दी। पायलट ने अपने समर्थकों से शांत रहने की अपील की और कहा कि ‘आलाकमान का फैसला सर्वमान्य होगा। हम सभी को आलाकमान पर पूरा भरोसा है।’ चुनाव जीतने के बाद से अब तक मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा नहीं हो सकी है जिससे गहलोत और पायलट के समर्थक काफी आक्रोश में हैं।

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.