वसुंधरा सरकार नवंबर तक की मेहमान – पायलट

0

जैसे-जैसे चुनावों का समय नजदीक आते जा रहा है, विरोधी पार्टियों ने एक-दूसरे पर हमला करना शुरू कर दिया है। जयपुर के बिड़ला ऑडिटोरियम में प्रदेश विधि प्रकोष्ठ की ओर से प्रदेश स्तरीय विधिक विमर्श 2018 का आयोजन किया गया। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने वसुंधरा सरकार पर जमकर हमला किया।

तानाशाह होंगे विदा

पायलट ने कहा कि राजस्थान की तानाशाह सरकार को दिसंबर में हटाकर हम सरकार बनाएंगे। उन्होंने कहा कि जब किसी के पास सत्ता आती है तो वह समझ लेता है कि अब धन-बल उन्हीं के हाथ में है। वो जैसा चाहे वैसा हो। वे लोग लोकतंत्र के लिए खतरा हैं। पायलट ने आगे कहा कि अपने आप को सर्वशक्तिमान मान लेना सबसे बड़ी भूल है। सरकार केवल पांच वर्ष के लिए मिलती है, उसका घमंड नहीं करना चाहिए।

देश में असुरक्षा का माहौल

पायलट ने कहा कि आज देश में असुरक्षा का माहौल है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब बड़े जज प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं और पत्रकारों को धमकी मिल रही है। उन्होंने कहा कि कौन क्या पहनेगा, क्या खाएगा, किसकी पूजा करेगा, यह सब एक जगह तय होता है। राष्ट्रवादी का ठेका नागपुर के पास है।

हर तरफ मॉनीटर

सम्मेलन के मुख्य वक्ता कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सरकार हर तरफ मॉनीटर करने का प्रयास कर रही है। न्यूज चैनलों में होनी वाली डिबेट में एंकर के नाम पूछे जाने लगे हैं| यदि एंकर मनमाफिक नहीं हैं तो चैनलों का बायकॉट किया जाता है। सरकार के खिलाफ अखबार में छप जाए तो विज्ञापन बंद कर दिए जाते हैं।

Share.