राजस्थान : ज्ञानदेव आहूजा ने छोड़ा भाजपा का साथ

0

चुनाव में टिकट नहीं मिलने से नाराज़ भाजपा विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने सांगानेर से निर्दलीय मैदान में उतरने का फैसला कर लिया है। ज्ञानदेव आहूजा जयपुर की सांगानेर सीट से भारत वाहिनी पार्टी के घनश्याम तिवाड़ी के सामने निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। भाजपा ने इस सीट पर अशोक लाहोटी को उतारा है।

नामांकन के आखिरी दिन ज्ञानदेव आहूजा ने अपना नामांकन दाखिल किया। उन्होंने पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कहा कि वे हमेशा भाजपा के साथ हैं। उन्होंने कहा कि उनका टिकट कटा, इसका उन्हें दुख है। पार्टी ने उन्हें नहीं निकाला बल्कि खुद उन्होंने त्यागपत्र दिया है। आहूजा ने कहा कि उन्हें इस बात का दुख है कि वह लगातार विधायक बनते हुए आ रहे थे तो बिना किसी कारण के उनका टिकट क्यों काट दिया गया।

उन्होंने कहा कि यदि पार्टी को मेरा टिकट काटना ही था तो मुझसे बात करती। मुझे विश्वास में लेकर और मुझे कारण बताकर टिकट काटती तो मुझे पीड़ा नहीं होती, लेकिन बिना किसी कारण के मुझे बिना किसी विश्वास में लिए, टिकट काट दिया। आहूजा ने सांगानेर से घनश्याम तिवाड़ी को अपना दोस्त बताया है। उन्होंने कहा कि तिवाड़ी के प्रति मेरी श्रद्धा है परंतु राजनीति है| राजनीति में सक्रिय रहने के लिए चुनाव लड़ना पड़ता है। घनश्याम तिवाड़ी उनके दोस्त हैं और रहेंगे। उन्होंने कहा कि सांगानेर का चुनाव तिवाड़ी बनाम आहूजा का है। वहां कांग्रेस और भाजपा मैदान में नहीं है।

Share.