जनता को भाजपा से नाराज़गी – गहलोत

0

राजस्थान के बांसवाड़ा के कांग्रेस प्रत्याशी अर्जुनसिंह बामनिया के समर्थन में विशाल जनसभा आयोजित हुई। जिस दौरान राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री वसुंधराराजे और भाजपा सरकार पर तीखा हमला किया| उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधराराजे अपने कार्यकाल के दौरान जनता से जुड़ी रहती तो आज उन्हें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के सामने नतमस्तक नहीं होना पड़ता।

गहलोत ने कहा कि राज्य में रिफाइनरी, मेट्रो परियोजना, आदिवासी क्षेत्रों में विकास और करौली तथा टोंक में रेल लाइन के काम आगे नहीं बढ़े। इससे जनता में नाराज़गी है। इसके अलावा बेरोज़गारी, कानून व्यवस्था की स्थिति और भ्रष्टाचार के मोर्चे पर सरकार की नाकामी के कारण लोगों में भारी आक्रोश है। उन्होंने कहा कि भाजपा और उसके नेताओं का विकास कार्यों में नहीं बल्कि धर्म की राजनीति में विश्वास है। इससे राष्ट्र और लोकतंत्र पर खतरा मंडरा रहा है और संविधान कमज़ोर पड़ रहा है।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और सीएम वसुंधराराजे के राजस्थान को बीमारू राज्य की श्रेणी से निकाल कर विकसित राज्यों की कतार में खड़े करने के दावे को खारिज करते हुए उन्होंने कहा, राजस्थान कभी पिछड़ा राज्य था ही नहीं।

गहलोत ने वसुंधरा पर आरोप लगाते हुए कहा कि हमारी अधिकांश जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया गया, परंतु हम किसी योजना को बंद नहीं करेंगे। कांग्रेस के भितरघात और गुटबाज़ी की रिपोर्ट को सिरे से खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि सभी नेता और कार्यकर्ता शीर्ष नेतृत्व के तले एकजुट होकर चुनाव लड़ रहे हैं।

Share.