कांग्रेस से चुनाव लड़ना चाहते हैं पुलिस अफसर

0

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। जनता के साथ-साथ अब पुलिस का साथ भी कांग्रेस को मिलने लगा है। अब पुलिस अफसर अपनी नौकरियां छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम रहे हैं। अफसरों अब चुनाव लड़ने को भी तैयार हैं। राज्य पुलिस सेवा के दो अफसरों ने विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया। डीएसपी विभोर सिंह और इंस्पेक्टर गिरिजाशंकर जोहर ने डीजी एएन उपाध्याय को अपना इस्तीफा सौंप दिया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, विभोर सिंह कोटा विधानसभा से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहते हैं। वहीं गिरिजाशंकर के अनुसूचित जाति बाहुल्य मस्तुरी विधानसभा सीट से कांग्रेस की ओर से विधानसभा सीट से दावेदारी करने की बात सामने आई है। बता दें कि विभोरसिंह बलरामपुर में नक्सली मुठभेड़ में घायल हो गए थे। इस वजह से उन्हें आउट ऑफ टर्म प्रमोशन दिया गया है। इसके अलावा विभोरसिंह 90 के दशक में छात्र राजनीति में पूरी तरह सक्रिय रहे हैं। वे 1993 में कोटा में एनएसयूआई के अध्यक्ष भी रहे हैं।

इनके अलावा पूर्व आईपीएस आरसी पटेल रायगढ़ से और शिशुपाल सोरी कांकेर से दावेदारी कर रहे हैं। वहीं जोगी कांग्रेस ने पूर्व आईएएस एमएस पैकरा को पत्थलगांव से प्रत्याशी घोषित कर दिया है। कवि पद्मश्री डॉ.सुरेंद्र दुबे का नाम बेमेतरा से भाजपा उम्मीदवार के रूप में लिया जा रहा है। वे पिछले कुछ महीनों से भाजपा के मंचों पर भी नज़र आने लगे हैं।

छत्तीसगढ़ विधानसभा में नज़र आए तांत्रिक बाबा

छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र का आगाज़

Share.