मोदी को उन्हीं के अंदाज़ में जवाब देंगे राहुल

0

2019 के लोकसभा चुनाव से पहले ही भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने हैं| लोकसभा से पहले तीन महत्वपूर्ण राज्यों में विधानसभा चुनाव होने को है, जिसके लिए दोनों ही दलों ने कमर कस ली है| कांग्रेस भी इस बार भाजपा की रणनीति अपनाती दिखाई दे रही है| कांग्रेस भी प्रमुख चेहरों को सामने रखकर चुनाव लड़ने की तैयारी में है|

जयपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान विधानसभा चुनाव का जो बिगुल बजाया है, उसका जवाब अब कांग्रेस भी उसी अंदाज़ में देने वाली है| मोदी के सामने कांग्रेस अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को मैदान में उतारने जा रही है| सूत्रों के अनुसार, जयपुर सभा में बीजेपी ने जितनी भीड़ जुटाई थी, उसका जवाब कांग्रेस राहुल की रैली में देगी| हालांकि यह रैली जयपुर नहीं बल्कि उदयपुर में रखने की चर्चा है|

प्रधानमंत्री  मोदी 7 जुलाई को राजधानी जयपुर में एक सरकारी कार्यक्रम ‘लाभार्थीजन संवाद’ में पहुंचे थे| कांग्रेस ने इसे सरकारी कम और पार्टी की चुनावी प्रचार रैली अधिक करार दिया था| पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट और राष्ट्रीय संगठन महासचिव ने भाजपा पर सरकारी धन और मशीनरी का दुरुपयोग करने के आरोप लगाए थे| भाजपा इसे सरकारी बता रही थी क्योंकि इस कार्यक्रम में प्रदेशभर से उन लोगों को बुलाया गया, जो केंद्र या राज्य सरकार की किसी न किसी योजना के लाभार्थी थे|

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की आगामी रैली के सन्दर्भ में भी यह कयास लगाए जा रहे हैं कि राजस्थान की जनता राहुल को सुनने पहुंचेगी| हालांकि, कांग्रेस की पिछली रैलियों पर गौर करें तो कांग्रेस के लिए भीड़ जुटाने का पूरा श्रेय प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट को जाता है| भाजपा की राह पर चल रही कांग्रेस के लिए यह हथकंडा जनता से जुड़ने में कारगर हो सकता है|

Share.