वादा अधूरा! पूरा गांव नहीं डालेगा वोट…

0

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव नज़दीक आते जा रहे हैं। चुनाव की तारीख की घोषणा भी हो गई है। राजनीतिक दलों ने अपनी कवायद तेज़ कर दी है। वहीं चुनाव आयोग ने भी जनता को वोट डालने के लिए जागरूक करना शुरू कर दिया है। इधर, चौथी बार सरकार बनाने का सपना देख रही भाजपा को करारा झटका लगा है। अब खंडवा के हरसूद तहसील के चिकली गांव के लोगों ने विधानसभा चुनाव में वोट नहीं डालने की कसम खाई है। गांव के बाहर पोस्टर भी लगवा दिया है कि कोई नेता यहां पैर नहीं रखे।

चिकली गांव के लोगों का कहना है कि चौदह साल से सरकार ने कोई वादे पूरे नहीं किए हैं इसलिए अधूरे वादे के खिलाफ हमने नो रोड-नो वोट अभियान चलाया है। अब हम नेताओं से मिलना भी नहीं चाहते। गांव के रहने वाले दिनकरराव ने कहा, “पिपलानी जाने वाला रास्ता अहम है, पर वहां इतने गड्ढे हैं कि एक्सीडेंट हो जाते हैं।’ उन्होंने कहा कि यहां सिर्फ नेता प्रचार करने आते हैं। कई अधिकारों को पत्र लिखे, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।“

हुकुम मीणा ने कहा, “मजदूर महिलाओं को ज्यादा मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। उन्हें सिर पर बोझ उठाकर चलना होता है।“ भंवरली के सरपंच विनोज कालम ने कहा कि जब तक रोड नहीं बन जाती, हम चुनाव का विरोध करते रहेंगे। विधायक, सांसद से कई बार मिला और चिट्ठियां भी लिखीं, लेकिन कुछ नहीं हुआ।

Share.