अब संगठनों से होगी बात   

0

मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में हर वर्ग का महत्वपूर्ण योगदान है| इस बात से भली-भांति परिचित राजनीतिक दल अपनी पकड़ हर जगह मजबूत बनाने में जुटे  हैं | अब कांग्रेस ने एक कदम आगे बढ़ाते हुए ‘गुड आइडिया’ खोज निकाला है| कांग्रेस ने अब प्रदेश में सक्रिय सामाजिक संगठनों और एनजीओ को भी अपने साथ जोड़ने का अभियान शुरू करने का मन बनाया है| पार्टी नेताओं का मानना है कि इस अभियान से कांग्रेस को आम लोगों की तकलीफों के बारे में गहरी जानकारी मिल सकेगी, जिसका लाभ पार्टी को सीधे तौर पर होगा|

मुद्दों की होगी बात 

सामाजिक संगठनों और एनजीओ को जोड़ने और उनसे जुड़ने को पार्टी के कांग्रेस नेता बेहतर मान रहे हैं| राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा इस अभियान को लेकर उत्साहित हैं | तन्खा का कहना है कि सामाजिक संगठनों और एनजीओ आम लोगों की परेशानियों और तकलीफों को समझते हैं| सामाजिक संगठन आम लोगों के बीच वर्षों से काम कर रहे हैं इसलिए उनके पास एक सामाजिक नज़रिया है|

नाथ भी हैं अभियान के पक्ष में

कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ भी सामाजिक संगठनों और एनजीओ को जोड़ने की बात पर सहमत हैं| इस अभियान की जिम्मेदारी भी सांसद तन्खा के पास होगी, जिनके दम पर पार्टी इस अभियान को आगे बढ़ाएगी, जिसमें नए ही तरीके से पार्टी अपना वोट बैंक बढ़ाती दिखाई देगी|

Share.