कांग्रेसी उम्मीदवार को आशीर्वाद देने पर आया नोटिस

0

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा सरकार के खिलाफ जाने वाले कम्प्यूटर बाबा कब कांग्रेस के पाले में चले गए, किसी को पता नहीं चला। कम्प्यूटर बाबा ने चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवारों को जमकर आशीर्वाद दिया, लेकिन इसके कारण अब वे विवादों में भी आ गए हैं।

कांग्रेस उम्मीदवारों का समर्थन कर रहे कंप्यूटर बाबा को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज करवाई गई है। मांग है कि बाबा की जहां-जहां सभा हुई, उसका खर्च उस विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस उम्मीदवार के खर्च में जोड़ा जाए।

दिल्ली के आदर्श श्रीवास्तव ने यह शिकायत दर्ज करवाई है। उन्होंने अपने आवेदन में कहा है कि कंप्यूटर बाबा ने मध्यप्रदेश में कांग्रेस उम्मीदवार के समर्थन में सभा आयोजित की। लिहाजा, बाबा की जहां सभा हुई, उसका खर्च संबंधित विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस उम्मीदवार के खर्च में जोड़ दिया जाए।

इसी साल अप्रैल माह में प्रदेश सरकार ने कंप्यूटर बाबा को पांच संतों के साथ राज्यमंत्री का दर्जा दिया था, लेकिन कुछ दिनों बाद कम्प्यूटर बाबा ने शिवराज सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए इस्तीफा दे दिया था।

कांग्रेस को समर्थन

बीते शुक्रवार को ही संतों ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को मां नर्मदा के साथ अन्याय करने वाला कलयुगी पुत्र और साधु-संतों के साथ धोखा करने वाला व्यक्ति बताते हुए उन्हें पद से हटाने के लिए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को समर्थन देने का संकल्प लिया था। संत सम्मेलन का आयोजन पटदर्शन संत समिति के अध्यक्ष संत कंप्यूटर बाबा की अगुवाई में जबलपुर के ग्वारीघाट क्षेत्र में किया गया था। नर्मदे संसद में शिरकत करने अन्य प्रदेशों के भी संत पधारे थे।

Share.