मप्र चुनाव :  दांव पर लगी इन दिग्गजों की प्रतिष्ठा

1

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान शुरु हो गए हैं। सबसे पहले नक्सल प्रभावित जिला बालाघाट में सुबह सात बजे से ही मतदान शुरु हो गया है। इस बार 5 करोड़ 4 लाख मतदाता अपने मत का प्रयोग करेंगे। इस बार के चुनाव में 230 सीटों पर मैदान में 2907 प्रत्याशी खड़े हैं। प्रदेश में कई सीट ऐसी हैं, जिन पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं।

भाजपा की यहां दांव पर प्रतिष्ठा

 इंदौर-3

इस सीट से भाजपा ने पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश को टिकट दिया है। 34वर्षीय आकाश विजयवर्गीय के जीवन का ये पहला चुनाव है। विजयवर्गीय का मुकाबला कांग्रेस के अश्विन जोशी से है। जोशी इस सीट से विधायक रह चुके हैं।

गोविंदपुरा

भोपाल की गोविंदपुरा सीट पर भाजपा ने 10 बार से विधायक रहे बाबूलाल गौर की बहू कृष्णा गौर को टिकट दिया है। इस सीट पर कांग्रेस ने दो बार के पार्षद युवा चेहरा गिरीश शर्मा को मैदान में उतारा है।

कांग्रेस की यहां दांव पर प्रतिष्ठा

 झाबुआ

इस सीट से कांग्रेस ने वर्तमान सांसद कांतिलाल भूरिया के बेटे विक्रांत को टिकट दिया है। विक्रांत भूरिया का मुकाबला भाजपा के गुमान सिंह दामोर से है।

चुरहट

चुरहट सीट मध्यप्रदेश में कांग्रेस का गढ़ मानी जाती है। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह यहीं के रहने वाले थे। इस सीट से अर्जुन सिंह के बेटे और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंहविधायक हैं। उनके खिलाफ भाजपा ने शरतेंदु तिवारी को मैदान में उतारा है। शरतेंदु तिवारी के दादा चंद्रप्रताप सिंह ने 1967 में अर्जुनसिंह को इस सीट से चुनाव हराया था।

मप्र चुनाव : जानें मतदाताओं का गणित…

मप्र चुनाव : इंदौर में सबसे ज्यादा मतदान

मप्र चुनाव :  दीवार तोड़ी, तब शुरू हुआ मतदान

Share.