मप्र चुनाव : सट्टा बाज़ार हुआ सक्रिय

0

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव का शंखनाद हो गया है। अपना वनवास खत्म करने के लिए कांग्रेस पूरी ताकत लगा रही है। चुनाव से पहले भोपाल का सट्टा बाज़ार सक्रिय हो गया है। सट्टा बाज़ार में कांग्रेस के जीतने की उम्मीद जताई जा रही है। कुछ दिन पहले तक सट्टा बाज़ार में इस बात को लेकर दांव लगाए जा रहे थे कि कौन जीतेगा। यदि कोई शख्स भाजपा की जीत पर 10,000 रुपए का सट्टा लगा रहा था और उसे 11,000 रुपए मिलने थे, जबकि कांग्रेस की जीत पर 4,000 रुपए पर 10,000 रुपए मिलने थे परंतु अब ट्रेंड बदल गया है। अब सट्टा हार-जीत पर नहीं बल्कि सीटों के हिसाब से लगाया जा रहा है। बुकीज़ का मानना है कि इस बार किसी भी पार्टी को बहुमत मिलना मुश्किल है, कांटे की टक्कर होगी।

पैसा दोगुना

भाजपा और कांग्रेस के बीच कड़ा मुकाबला देखते हुए सट्टा इस बात पर लगाया जा रहा है कि भाजपा को 102 से अधिक सीटें मिलेंगी या कांग्रेस को 116 से अधिक सीटें मिलेंगी। दोनों ही दांव पर पैसा दोगुना हो रहा है यानी कांग्रेस को 116 से अधिक सीटें मिलीं और किसी ने इस पर दांव लगाया तो उसके पैसे दोगुने हो जाएंगे, भले ही उसने कितने भी पैसे लगाए हों। ठीक इसी तरह भाजपा पर पैसे लगाने वालों का पैसा दोगुना हो जाएगा।

सट्टा बाज़ार में कितना दम ?

सट्टा बाज़ार के पुराने आंकड़ों को देखा जाए तो यूपी चुनाव में सट्टा बाज़ार का अनुमान सही साबित हुआ था। सट्टा बाज़ार में उस समय भाजपा पर पैसे लगाए गए थे और भाजपा जीत गई थी। वहीं बिहार चुनाव में सटोरियों को झटका लगा था। सट्टा लगाया था भाजपा पर, पर जीत गए नीतीश कुमार, जो उस समय महागठबंधन का नेतृत्व कर रहे थे। पंजाब में भी सटोरियों को अनुमान था कि आप जीतेगी और कांग्रेस दूसरे स्थान पर रहेगी। उसके उलट कांग्रेस ने पंजाब में जीत हासिल की।

Share.