विपक्ष में रहकर करेंगे चुनौतियों का सामना : शिवराज

0

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में हार के बाद शिवराजसिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया| अपने इस्तीफे के बाद शिवराज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की| उन्होंने जनता का धन्यवाद किया और कहा कि मैंने परिवार की तरह मध्यप्रदेश में सरकार चलाने की कोशिश की| अब हम विपक्ष में रहकर चुनौतियों का सामना करेंगे| शिवराजसिंह चौहान की प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि प्रदेश में सबसे अधिक वोट भाजपा को मिले, लेकिन सीट नहीं|

शिवराजसिंह चौहान की प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने क्या-क्या कहा, जानिए |

# मध्यप्रदेश में भाजपा की 15 साल सरकार रही, इसका बहुत-बहुत धन्यवाद

# मैंने परिवार की तरह मध्यप्रदेश में सरकार चलाने की कोशिश की| जब भाजपा की सरकार आई थी तो प्रदेश की आर्थिक दशा बहुत खऱाब थी, लेकिन भाजपा ने प्रदेश का विकास किया और इसके लिए पार्टी ने बहुत मेहनत की|

# नई सरकार को बहुत-बहुत बधाई, मैंने कमलनाथ को बधाई दी| हमारे पास संख्या की कमी है इसलिए भाजपा सरकार बनाने की कोशिश नहीं करेगी| नई सरकार से अनुरोध है कि किसानों और गरीबों के लिए योजनाओं को ठीक से चलाए|

# लोकतंत्र का यही आनंद है कि लोग आएंगे-जाएंगे, व्यक्तियों के बदलने से योजना न बदले| कांग्रेस ने वचन-पत्र में किसान कर्जमाफी करेंगे यह कहा है| मुझे भरोसा है कि वे इसे निभाएंगे| राहुल गांधी ने जो वादा किया है, वह निभाने का वक्त आ गया है|

# विपक्ष को जो जिम्मेदारी मिली है, वे निभाएंगे, रचनात्मक मदद देंगे| मैं सौहार्द कायम रखने की कोशिश करूंगा| अब भाजपा लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुट जाएगी, मध्यप्रदेश में हार की जिम्मेदारी मैं लेता हूं| अब हम अब विपक्ष में रहकर चुनौतियों का सामना करेंगे|

शिवराजसिंह चौहान ने इस्तीफा देने के बाद पहला ट्वीट किया | उन्होंने ट्वीट में लिखा, “मध्यप्रदेश के नागरिकों ने जो स्नेह दिया, उसके लिए ह्रदय से धन्यवाद| जो जनादेश मिला है, वो शिरोधार्य है| अब बतौर विपक्ष हम जनहित, गरीब कल्याण और विकास के मुद्दों पर सजग प्रहरी रहते हुए हर चुनौती का सामना करेंगे| प्रदेश का उज्जवल भविष्य हमारा संकल्प है|”

मप्र की 230 सीटों के नतीजे यहां देखिए

शिवराज ने बदला स्टेटस

MP LIVE: कमलनाथ को मिल सकती है प्रदेश की कमान

Share.