प्रदेश में यहां रचा जीत का इतिहास

2

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 के परिणामों की घोषणा हो गई है| अंत तक भाजपा और कांग्रेस में कांटे की टक्कर दिखी| चुनाव में जहां भाजपा को 109 सीटें मिली हैं, वहीं कांग्रेस ने 114 सीटें हासिल की हैं| इस विधानसभा चुनाव की 230 सीटों पर कुल 2899 उम्मीदवार थे| भाजपा को इस चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा, लेकिन प्रदेश के दो उम्मीदवार ऐसे हैं, जो भाजपा के हैं और उन्होंने प्रदेश में जीत का इतिहास बना दिया|

भाजपा के दो उम्मीदवार और कांग्रेस के एक उम्मीदवार ने इस चुनाव में सबसे अधिक मत प्राप्त कर जीत का इतिहास रच दिया| जानिए, कौन है प्रदेश के सबसे अधिक मत पाने वाले विधायक |

रमेश मेंदोला

इंदौर विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 2 के नवनिर्वाचित विधायक रमेश मेंदोला ने विधानसभा चुनाव 2018 में सबसे बड़ी जीत हासिल की| ‘भारतीय जनता पार्टी’ के रमेश मेन्दोला ने 1,38,794 मतों से ‘इंडियन नेशनल कांग्रेस’ के मोहनसिंह सेंगर को हराया| उन्होंने यह जीत 71,011 मतों के बड़े अंतर से हासिल की| इसके पहले वर्ष 2013 में हुए विधानसभा चुनाव में भी रमेश मेंदोला ने 91,017  मतों के बड़े अंतर से विपक्ष को मात दी थी|

सुरेन्‍द्रसिंह (हनी) बघेल

कुक्षी विधानसभा क्षेत्र से ‘इंडियन नेशनल कांग्रेस’ के सुरेन्‍द्रसिंह (हनी) बघेल ने 1,08,391 मत प्राप्त कर प्रदेश में सबसे ज्यादा मत प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों की सूची में दूसरा स्थान हासिल किया है| उन्होंने ‘भारतीय जनता पार्टी’ के वीरेन्द्रसिंह बघेल को 62,930 मतों के अंतर से हराया| वीरेन्द्रसिंह बघेल को 45,461 मत प्राप्त हुए|

शिवराजसिंह चौहान  

भारतीय जनता पार्टी के विधायक और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी विधानसभा क्षेत्र से बड़ी जीत हासिल की है| उन्होंने 1,23,492 मत हासिल कर ‘इंडियन नेशनल कांग्रेस’ के अरुण सुभाषचंद्र को 58,999 मतों के अंतर से हराया| अरुण सुभाषचंद्र को 64,493 मत प्राप्त हुए|

विपक्ष में रहकर करेंगे चुनौतियों का सामना : शिवराज

मप्र की 230 सीटों के नतीजे यहां देखिए

शिवराज ने बदला स्टेटस

Share.