समर्थक बेकरार, प्रत्याशी हुईं गिरफ्तार

0

मध्यप्रदेश में चुनाव को केवल 5 दिन शेष रह गए हैं और इस रेस में शामिल सभी दलों ने अपने प्रचार की रफ़्तार बढ़ा दी है। प्रत्येक पार्टी के स्टार प्रचारक अपने-अपने प्रत्याशियों के समर्थन में ताबड़तोड़ सभाएं कर रहे हैं। ऐसे में मध्यप्रदेश की बालाघाट सीट से चुनावी मैदान में उतरी सपा प्रत्याशी अनुभा मुंजारे को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सभा से ठीक पहले गिरफ्तार कर लिया गया।

मुंजारे की गिरफ्तारी से पार्टी कार्यकर्ताओं व उनके समर्थकों में काफी आक्रोश है। मुंजारे की गिरफ्तारी के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं और उनके समर्थकों ने थाने की घेराबंदी कर नारेबाजी की। इस पर मुंजारे का कहना है कि ‘पुलिस ने मुझे बिना जानकारी दिए 5 साल पुराने एक मामले में गिरफ्तार किया है। यह कार्रवाई बीजेपी के दबाव में मुझे प्रचार से रोकने के लिए की गई है। आज मेरी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव यहां आ रहे हैं, जिसे लेकर मुझे रैली से रोकने के लिए ऐसा किया गया है।’

इस मामले में कोतवाली टीआई महेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि साल 2013 के चुनाव में आचार संहिता उल्लंघन के दो मामलों में कोर्ट ने मुंजारे के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। अब उनकी कोर्ट से जमानत होगी। इस पर मुंजारे ने भाजपा प्रत्याशी गौरीशंकर बिसेन पर आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव में हार के डर से उन्होंने पुलिस कार्रवाई कराई है। मुंजारे ने कहा कि यदि आचार संहिता का उल्लंघन हुआ था तो फिर पांच साल में क्यों नहीं गिरफ्तार किया गया। 2013 के मामले में अब गिरफ्तारी होना मेरे खिलाफ साजिश है। गौरीशंकर बिसेन चुनाव में हार रहे हैं, इसलिए उन्होंने ये कार्रवाई कराई है।

पीएम ने किया आचार संहिता का उल्लंघन : कांग्रेस

दिग्विजय पर लगा आचार संहिता उल्लंघन का आरोप

इंदौर: आचार संहिता का उल्लंघन करने पर फंसे स्वप्निल कोठारी

Share.