शिवराज कॉमेडी यात्रा निकाल रहे हैं – कमलनाथ

1

शिवराज सरकार को रोकने के लिए कांग्रेस ने कमर कस ली है। कांग्रेस जीत के लिए कोई भी कसर नहीं छोड़ रही है। इस बीच कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने शिवराज सरकार की जन आशीर्वाद यात्रा पर जमकर हमला बोला। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज अपनी ब्रॉडिंग में हर महीने 300 करोड़ रुपए खर्च कर देते है। उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षकों को अतिथि शिक्षकों कहकर उनका अपमान किया है।

कमलनाथ मप्र शिक्षक कांग्रेस के प्रांतीय सम्मेलन में शामिल होने नर्मदे भवन में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे थे। इस कार्यक्रम के दौरान कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर तीखा प्रहार किया। उन्होंने कहा कि मैने पहली बार देखा कि प्रदेश की जनता इतनी परेशान है, लेकिन सीएम अखबारों में अपनी फोटो छपवा रहे हैं। शिवराज 30 में से 25 दिन अपनी ब्रांडिंग करते है। हर महीने 300 करोड़ रुपए ब्रांडिंग पर खर्च करते है।

महिला अपराधों में प्रदेश नंबर वन

कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में महिला अपराधों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। इसे रोकने के लिए सरकार ने कोई ठोस कदम नहीं उठाया है। उन्होंने महिला अपराधों में प्रदेश नंबर वन पर है। इस बार चुनाव में सत्ता परिवर्तन होना ज़रूरी है। कमलनाथ ने आगे कहा कि आने वाला चुनाव मेरा भविष्य नहीं, प्रदेश का भविष्य तक करेगा।

जन आशीर्वाद नहीं कॉमेडी यात्रा

कमलनाथ ने कहा कि जन आशीर्वाद यात्रा के नाम पर भाजपा ज़बरदस्ती आवेदन दिलवा रहे है। जनता को लुभाने के लिए उन्हें अपनी मांगों और समस्याओं का आवेदन लेकर बुलाया जा रहा है। उन्होंने सीएम की सभा से पहले नर्तकी को नचाने को लेकर भी सवाल उठाए और कहा भीड़ जुटाने के लिए भाजपा ऐसा कार्य कर रही है, ये जनआशीर्वाद यात्रा नहीं, बल्कि कॉमेडी यात्रा है।

कांग्रेस में गुटबाजी

वहीं भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ता दो गुटों में बंटे हुए हैं। जनता से उनका किसी भी तरह का जुड़ाव नहीं है। दिनभर अलग-अलग नेताओं की कांग्रेस कार्यालय में बैठकें हो रही हैं। गुटबाजी इतनी है कि सुबह दिग्विजयसिंह मीटिंग लेते हैं तो शाम को ज्योतिरादित्य सिंधिया और उसके बाद कमलनाथ मीटिंग बुलवाते हैं। सभी अपने-अपने गुटों को लेकर आगे बढ़ रहे हैं।

यह खबर भी पढ़े – बुजुर्ग नेताओं का सहारा लेगी कांग्रेस

यह खबर भी पढ़े – भाजपा विस्तारकों को मिलेगी बाइक और भत्ता

यह खबर भी पढ़े – विधानसभा चुनाव: रुठे नेताओं को मनाएगी कांग्रेस

Share.