वसुंधरा के खिलाफ आईपीएस की पत्नी लड़ेंगी चुनाव

0

राजस्थान विधानसभा नज़दीक आने को हैं। पार्टियों ने चुनावी शंखनाद कर दिया है। मुख्यमंत्री वसुंधराराजे को टक्कर मिलना शुरू हो गई है। सीएम वसुंधराराजे के निर्वाचन क्षेत्र झालरापाटन से भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) पंकज चौधरी की पत्नी मुकुल चौधरी चुनाव लड़ेंगी। मुकुल चौधरी के पति पंकज चौधरी 2009 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। राजे सरकार से उनके रिश्ते ठीक नहीं है।

मुकुल ने पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कहा कि मैं दो दिन बाद झालरापाटन क्षेत्र में जाउंगी। हमारे लोग चुनावी मैदान में उतर चुके हैं और प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि झालरापाटन मेरी जन्मस्थली है, अब इसे कर्मस्थली बनाना है। मुकुल ने कहा कि हम प्रदेश से भ्रष्टाचार और तानाशाही हटाना चाहते हैं। भ्रष्टाचार की जड़ काफी ऊपर पहुंच गई है। इस गंदगी को साफ करने के लिए हमें गंदे पानी में उतरना ही पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि उनके पति को प्रताड़ित किया गया और ईमानदार होने के कारण उन्हें चार्जशीट और लगातार तबादले किए गए। उन्होंने कहा कि ईमानदार अधिकारियों को प्रताड़ित किया जा रहा है, उसमें मेरे पति भी हिस्सा हैं। मुकुल ने कहा कि झालरापाटन की बेटी और उसके बाद ईमानदार आईपीएस अधिकारी की पत्नी हूं।

राजनीतिक परिवार से आती हैं – मुकुल चौधरी

मुकुल चौधरी राजनीतिक परिवार से आती हैं। मुकुल की माता का नाम शशि दत्ता है, जो 1993 में भैरोसिंह शेखावत सरकार में कानून मंत्री रह चुकी हैं। 2008 में उन्होंने हिंदाऊं सीट से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। मुकुल चौधरी के पिता राज्य सरकार में प्रशासनिक अधिकारी रह चुके हैं।

भाजपा से रिश्ते ख़राब

पंकज चौधरी 2014 में बूंदी जिले के एसपी थे, तब भाजपा सरकार के साथ उनके रिश्ते खराब हुए थे। एक बार उन्होंने अपने सीनियर्स के आदेश को न मानते हुए दंगे की स्थिति को रोकने के लिए विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के 11 कार्यकर्ताओं को पुलिस हिरासत से रिहा करने से मना कर दिया था। तब से उनके रिश्तों में मनमुटाव चल रहा है। उनका कई बार ट्रांसफर किया चुका है। साथ ही गलत व्यवहार के आरोप में 7 चार्जशीट फाइल को चुकी हैं।

राजस्थान चुनाव: क्या सादुलपुर से बसपा बनेगी भाजपा के लिए खतरा?

राजस्थान चुनाव: क्या श्रीमाधोपुर में होगी कांग्रेस की वापसी

इस गैंगस्टर की बेटी लड़ सकती है विधानसभा चुनाव

Share.