गृहमंत्री कटारिया से पूछा यह सवाल तो बचते नज़र आए

0

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधराराजे के खिलाफ झालरापाटन विधानसभा से आईपीएस पंकज चौधरी की पत्नी मुकुल के चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद राजनीति में हलचल मच गई है। चुनाव लड़ने की बात कहते हुए मुकुल ने कहा था कि झालरापाटन मेरी जन्मस्थली है और अब इसे कर्मस्थली बनाना चाहती हूं। आईपीएस पंकज चौधरी की पत्नी मुकुल चौधरी के चुनावी मैदान में उतरने की खबर से राजनीतिक चर्चाओं ने आग पकड़ ली है। साथ ही कई तरह के कयास भी लगाए जा रहे हैं।

जब इस संबंध में पत्रकारों ने गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया से सवाल किया तो वह बचते नज़र आए। उन्होंने कहा कि संविधान में सभी को चुनाव लड़ने का अधिकार है। कोई व्यक्ति चुनाव लड़ने के लिए पात्र है या नहीं, इसका निर्धारण चुनाव आयोग करेगा, लेकिन जब उनसे मुकुल के सिस्टम के प्रति नाराज़गी होने संबंधी सवाल पूछा गया तो वे बचते नज़र आए। उन्होंने कहा कि आप खुद मुकुल चौधरी से पूछकर मुझे बता दीजिएगा कि उन्हें सिस्टम से क्या नाराज़गी है।

गिरफ्तारी वारंट जारी

बता दें कि मुकुल चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ है। तीन महीने पहले हनुमानगढ़ में पूर्व मंत्री शशिदत्ता के निजी स्कूल को किराए पर दिए मकान को खाली कराने में तोड़फोड़ की गई थी, जिसमें शशिदत्ता, उनके पति सोमदत्त, आईपीएस पंकज चौधरी की पत्नी मुकुल, रतिराम और महेंद्र वर्मा के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है।

मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपियों को नोटिस भेजकर बुलाया था। हनुमानगढ़ पुलिस जब जयपुर पहुंची तो सभी आरोपियों के घर पर ताला लगा था, जिसके बाद 22 सितंबर तक आरोपियों को पेश होने के लिए दोबारा नोटिस जारी किया गया। आरोपियों के पेश नहीं होने पर पुलिस ने पत्रावली कोर्ट में पेश कर आरोपियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी करवाया।

वसुंधरा के खिलाफ आईपीएस की पत्नी लड़ेंगी चुनाव

प्रदेश सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने खोला मोर्चा

Share.