website counter widget

तीसरी बड़ी पार्टी ”नोटा”

1

नोटा तीसरे नंबर पर  : राजस्थान में जनता ने वसुंधराराजे सरकार को दूसरा मौका नहीं दिया। प्रदेश में फिर कांग्रेस की सरकार बन गई। प्रदेश में इस बार ‘नोटा’ का जादू जमकर चला। कांग्रेस-भाजपा के बाद जनता ने सबसे ज्यादा ‘नोटा’ को मत किया। जयपुर में तीन विधानसभा सीटें ऐसी रहीं, जहां नोटा तीसरे क्रमांक पर रहा। मतदाताओं ने जहां प्रत्याशियों को चुना वहीं नोटा को भी खूब पसंद किया। मतदाता नोटा को चुनने में भी पीछे नहीं रहे। जिले के 19 विधानसभा क्षेत्रों के 32070 मतदाताओं को 347 प्रत्याशियों में से एक भी पसंद नहीं आया। इस कारण उन्होंने नोटा को चुना।

जिले में बगरू विधानसभा ऐसी रही, जहां सर्वाधिक 4203 मतदाताओं ने नोटा को पसंद किया। इसके अतिरिक्त तीन विधानसभा सीट ऐसी हैं, जहां दो प्रत्याशियों के बाद तीसरे स्थान पर नोटा रहा। झोटवाड़ा, सिविल लाइंस, जमवारामगढ और मालवीय नगर में भी ऐसी स्थिति रही।

विधानसभा क्षेत्र  –  नोटा वोट  – कितने नंबर पर रहा   – कुल प्रत्याशी

– बगरू             4203                   चौथे                     15

– सिविल लाइंस     1744               तीसरा                 18

– झोटवाड़ा         1443                 तीसरा                    20

– विद्याधरधर नगर  1774               छठे                      21

– आमेर                  1678            चौथे                       15

– बस्सी           1558                  सातवें                     15

– चाकसू           1893                  चौथे                         06

– चौमूं           1859                  पांचवां                         15

– दूदू           1496                    पांचवां                           10

– हवामहल     796                        छठे                       19

– जमवारामगढ़  2195           तीसरा                         11

यह प्रत्याशी ‘नोटा’ के लिए मांग रहा वोट

मतदाताओं ने खूब दबाया नोटा का बटन

‘नोटा’ का बटन दबाकर सत्ताधीशों के अहंकार को कुचलेंगे…

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.