कोई हजामत बनाकर तो कोई डोसा खिलाकर वोटरों को रिझा रहा…

0

पीएम मोदी ने पिछले चुनाव में कहा था, अच्छे दिन आने वाले हैं| इसके बाद उन्होंने कहा, “अच्छे दिन आ गए हैं, लेकिन अब चुनाव में खड़े हुए प्रत्याशियों द्वारा अपनाए गए चुनावी हथकंडो को देखकर कहा जा रहा है कि ये कैसे दिन आ गए हैं| देश में चुनावी माहौल चल रहा है| सभी चुनावी पार्टियां जोर-शोर से प्रचार-प्रसार में लगी हैं| कोई भी जनता को लुभाने में किसी प्रकार की कमी नहीं रखना चाहते हैं| ऐसे समय में प्रत्याशियों के अलग-अलग रूप नज़र आ रहे हैं| कहीं कोई प्रत्याशी हजामत करने वाला बना तो कोई अपने हाथों से लोगों को खाना खिला रहा है|

हजामत बना रहे प्रत्याशी

वोटों के लिए मारामारी तो जहां चुनाव होने वाले होते हैं, वहां दिखती ही है, लेकिन इन दिनों तेलंगाना का माहौल कुछ अलग ही बना हुआ है| मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव के नेतृत्‍व वाली सत्‍ताधारी टीआरएस पार्टी ने अनोखी मुहिम शुरू की है| पार्टी के नेता डोर टू डोर अभियान के तहत आम आदमी की की मदद करते दिख रहे हैं| ऐसे ही भूपालपल्‍ली सीट से चुनाव लड़ रहे टीआरएस नेता और पूर्व स्‍पीकर एस मधुसूदन चारी को नाई की दुकान पर एक व्यक्ति की हजामत करते देखा गया| इसके बाद उन्होंने एक एक बुजुर्ग व्‍यक्ति अपने हाथों से खाना भी खिलाया|

डोसा बनाकर वोट मांगने की नीति

जहां टीआरएस नेता और पूर्व स्‍पीकर एस मधुसूदन चारी नाई की दुकान लोगों की हजामत कर रहे हैं वहीं तेलंगाना यूथ  कांग्रेस अध्‍यक्ष अनिल कुमार यादव हैदराबाद में सड़क किनारे लोगों को डोसा खिला रहे हैं| दरअसल, वे सड़क किनारे खड़े एक स्‍टॉल में डोसा बनाने वाले की मदद करते दिखाई दिए|

प्रत्याशी बना मजदूर

महबूबनगर से टीआरएस प्रत्‍याशी श्रीनिवास गौड़ ने तो लोगों को लुभाने के लिए मजदूरी भी कर डाली| दरअसल वे एक निर्माणाधीन इमारत के पास पहुंचे और वहां काम कर रहे मजदूरों की मदद करने लगे| उन्होंने वाहना फावड़ा चलाया और उसके बाद दूसरी जगह पर जाकर कपड़ों में प्रेस की, टेलर की दुकान में जाकर उसकी की मदद की| इनके अलावा भी कई ऐसे नेता है जो चुनाव के दिनों में कुछ नया करते दिख रहे हैं, जो केवल चुनाव तक ये रूप धारण करके रहेंगे|

Share.