पीएम की सभा के लिए ड्रेस कोड

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जयपुर में होने वाली सभा के लिए ड्रेस कोड लागू किया गया। सभा में पहुंचने वाले सरकारी योजनाओं के लाभार्थी को अलग-अलग रंग के कपड़े पहनने होंगे। उज्जवला योजना के लिए लाल और स्वच्छता मिशन के लिए पीला रंग तय किया है। इसी तरह अन्य योजनाओं के लिए दस तरह के रंग तय हुए हैं।

लाभार्थी होंगे एकत्रित

उदयपुर से मुख्य रूप से 12 योजनाओं के लाभार्थियों को ले जाया जाएगा। हालांकि सरकार ने 14 योजनाओं को लेकर निर्देश दिए हैं। यहां से हर लाभार्थी को संबंधित योजना के लिए तय रंग का कपड़ा पहनाकर ले जाया जाएगा। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि प्रदेशभर से पहुंचने वाले लाभार्थियों को एक साथ एकत्रित किया जा सके। हालांकि राजश्री और वृद्धजन तीर्थ योजना में बच्चे और बुजुर्ग होने के नाते प्रत्येक जिला अपने स्तर पर ले जाने का निर्णय करेगा।

भीड़ जुटाने का लक्ष्य

आगामी चुनाव से पहले पीएम मोदी की सभा राजनीतिक रूप से काफी मायने रखती है इसलिए सभी विधानसभा क्षेत्रों के प्रभारी और विधायक भी अपने लक्ष्य से ज्यादा भीड़ जुटाने की तैयारी करने में लगे हैं। वहीं कई नेताओं ने सभा के लिए आमंत्रण-पत्र भी छपवाए हैं।

योजनाओं की समीक्षा

पीएम की सभा के लिए सबसे ज्यादा लक्ष्य हासिल करने वाले जिलों पर नज़र रहेगी। इसमें सीकर, जोधपुर, उदयपुर और जयपुर सहित कई जिले हैं क्योंकि सबसे ज्यादा भीड़ जुटाने का लक्ष्य इन्हीं जिलों के कलेक्टरों को दिया है। यदि किन्हीं जिलों से कम लाभार्थी आते हैं तो फिर योजनाओं की समीक्षा की जाएगी।

आरटीओ से मांगी बसें

पीएम की सभा के लिए परिवहन विभाग ने आरटीओ को 6 हजार बसें जुटाने के आदेश दिए हैं। 6 हजार बसों से सभा में करीब 2.5 लाख लोगों के आने की संभावना जताई जा रही है। सबसे अधिक बसें जयपुर आरटीओ रीजन से मांगी गई हैं।

Share.