आप पर लगा टिकट बेचने का आरोप

0

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा और कांग्रेस ने अपनी जीत के लिए क़मर कस ली है। मुख्यमंत्री शिवराज जहां जनआशीर्वाद यात्रा निकाल रहे हैं वहीं कांग्रेस गठबंधन के पेंच में फंसी हुई है। इस बीच आम आदमी पार्टी भी मध्यप्रदेश में अपना राजनीतिक किला बनाने का प्रयास कर रही है। पार्टी ने पूरे प्रदेश में चुनाव लड़ने के साथ प्रत्याशियों की घोषणा भी कर दी है, लेकिन आप में किला बनाने से पहले ही दरार आना शुरू हो गई है।

आप के जिला संयोजक धीरज गोस्वामी ने अपनी ही पार्टी पर प्रश्न खड़े कर दिए हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि आम आदमी पार्टी टिकट के नाम पर पैसे ले रही है। मीडिया से मुखातिब होते हुए गोस्वामी ने कहा कि वे पिछले 3 वर्ष से पार्टी के लिए कार्य कर रहे हैं, लेकिन जब उन्होंने विधायक के टिकट की मांग की तो पार्टी ने उनसे एक लाख रुपए की मांग की। उन्होंने कहा कि ‘आप’ इसलिए चुनी गई थीं क्योंकि पार्टी भ्रष्टाचार मुक्त देश बनाने का संकल्प लेकर राजनीति में आई है।

उन्होंने कहा कि वे भोपाल के हुजूर विधानसभा क्षेत्र में काफी सक्रिय हैं। आम आदमी पार्टी की एक बैठक में उन्होंने टिकट के दावेदारों से चर्चा की, जिसमें उन्होंने हुजूर विधानसभा से अपना दावा पेश किया था। इसके बाद उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया गया। इंटरव्यू के दौरान ही उनसे टिकट के बदले 1 लाख रुपए मांगे गए। उन्होंने कहा कि जब मैंने पैसे देने से इनकार कर दिया तो मेरी जगह दूसरे उम्मीदवार को हुजूर विधानसभा सीट से टिकट दिया गया।

गोस्वामी ने आगे कहा कि आम आदमी पार्टी के संयोजक और सीएम पद के दावेदार आलोक अग्रवाल भोपाल की दक्षिण-पश्चिम सीट से विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। वह चुनाव में खर्च किए जाने पैसे के लिए कार्यकर्ताओं से पैसे वसूल रहे हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी ने मंदसौर के एक उम्मीदवार से तीन लाख रुपए लेकर टिकट दिया है।

नुक्कड़ सभाएं करेगी आप पार्टी

Share.