कांग्रेसी घर-घर जाकर मांगेंगे ‘वोट’ और ‘नोट’

0

राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है। भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दल जनता को आकर्षित करने के लिए नया-नया फंडा अपना रहे हैं। अब कांग्रेस ने चुनाव से पहले नया प्लान बनाया है। कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता विधानसभा चुनाव से पहले घर-घर जाकर वोट और नोट मांगेंगे। कांग्रेस इसकी शुरूआत 2 अक्टूबर से करने जा रही है। कांग्रेस ने इसका नाम डोर-टू-डोर लोक संपर्क अभियान रखा है।

यह अभियान 2 अक्टूबर से शुरू होकर 19 नवंबर तक चलेगा। 38 दिन के इस अभियान में कांग्रेस के बूथ से लेकर प्रदेश स्तर तक के नेता घर-घर जाएंगे। कांग्रेस चुनावों के लिए जनता से वोट के साथ चंदा भी मांगेंगे। धन की कमी से जूझ रही कांग्रेस ने घर जाकर वोट मांगने के साथ चंदा मांगने का भी फैसला लिया है। डोर-टू-डोर लोक संपर्क अभियान कांग्रेस ने गुजरात मॉडल पर शुरू किया है।

गुजरात विधानसभा चुनावों में भी कांग्रेस नेताओं ने घर-घर जाकर पर्चियां बांटी थी। उसी मॉडल को सुधार कर अब देशभर में लागू किया जा रहा है। राजस्थान में भी कांग्रेस के बड़े नेता घर घर जाएंगे। कांग्रेस हर बूथ पर 10 बूथ सहयोगी भी बना रही है। हर बूथ सहयोगी को उसके पॉलिंग बूथ में आने वाले 20 घरों की जिम्मेदारी दी गई है। डोर-टू-डोर लोक संपर्क अभियान में कांग्रेस का हर नेता मैदान में उतरेगा।

राजस्थान चुनाव: मुस्लिम उम्मीदवारों को कम टिकट देगी कांग्रेस…

सचिन पायलट ने गठबंधन को लेकर दिया बड़ा बयान

राजस्थान में ‘राजपूत’ बदलते हैं राजनीति का इतिहास…

Share.