राजस्थान चुनाव: मुस्लिम उम्मीदवारों को कम टिकट देगी कांग्रेस…

0

राजस्थान विधानसभा चुनाव को अब कुछ महीने बचे हैं। पार्टियों ने टिकट बंटवारे को लेकर रणनीति बनाना भी शुरू कर दी है। भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के दावेदार शक्ति प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन इस बार कांग्रेस सॉफ्ट हिंदुत्व का खेल खेलेगी। पिछले चुनाव की तुलना में इस बार कांग्रेस मुस्लिम उम्मीदवारों को कम टिकट देगी। 2013 में कांग्रेस ने 15 उम्मीदवारों को टिकट दिया था, लेकिन सभी हार गए।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस जाति और धर्म को नज़रअंदाज करते हुए उसी उम्मीदवार को टिकट देगी, जिसके जीतने की संभावना अधिक होगी। कांग्रेस ने अब तक किए गए प्रचार अभियान में अल्पसंख्यकों से जुड़े मुद्दों को बड़े पैमाने पर नहीं उठाया है। राहुल गांधी मंदिरों में जा रहे हैं और पूजा कर रहे हैं। इससे यह तय है कि चुनाव में कांग्रेस, भाजपा को उसी के दांव से हराना चाहती है।

2008 के चुनाव में कांग्रेस ने 14 अल्पसंख्यक उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा था, जिनमें 10 को जीत मिली थी। अल्पसंख्यक समुदाय ने 1985 में 2, 1990 में 3, 1993 में 4 और 2003 में 4 सीटों पर जीत हासिल की थी। राजस्थान की आबादी 6.86 करोड़ हैं, जिसमें 9.1 फीसदी मुस्लिम हैं। जैसलमेर में 25.1 फीसदी, अलवर में 14.9 फीसदी, भरतपुर में 14.5 और नागौर में 13.7 फीसदी मुस्लिम वोटर हैं। इन सभी सीटों पर मुस्लिम वोटरों की निर्णायक भूमिका है।

सचिन पायलट ने गठबंधन को लेकर दिया बड़ा बयान

राजस्थान में ‘राजपूत’ बदलते हैं राजनीति का इतिहास…

सीएम वसुंधरा की यात्रा के आगे चलता है यह शख्स…

Share.