कांग्रेसियों ने की बावरिया से मुलाकात

0

मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटे नेताओं के लिए इन दिनों दिन और रात का फर्क ख़त्म सा हो रहा है| प्रदेश में अलग-अलग पार्टियों के बड़े नेता लगातार दौरे कर अपनी-अपनी पार्टी के पक्ष में माहौल तैयार करने में व्यस्त हैं तो स्थानीय नेता और कार्यकर्ता भी दिन हो या रात हर समय सक्रियता दिखा रहे हैं| इसी कड़ी में कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया शुक्रवार- शनिवार की मध्य रात्रि देवास से इंदौर पहुंचे तो उनसे मिलने वाले नेताओं की भीड़ लग गई| करीब 2 घंटे तक इस मुलाकात का दौर चलता रहा और चुनावी चर्चा होती रही|

रेसीडेंसी कोठी में हुई मुलाक़ात

देवास से मैराथन बैठक कर लौटे कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया रात 11.15 बजे रेसीडेंसी कोठी पहुंचे थे| जैसे ही इस बात की जानकारी स्थानीय कांग्रेस नेताओं को लगी, नेता रेसीडेंसी कोठी पहुंचना शुरू हो गए और यह मुलाकात आधी रात तक चलती रही |

इस मौके पर शहर कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद टंडन और कार्यकारी अध्यक्ष विनय बाकलीवाल सहित अनेक नेताओं ने भेंट की और आगामी विधानसभा चुनाव से संबंधित चर्चा की| इसके बाद कांग्रेस नेता बारी -बारी से बावरिया से मुलाक़ात करते रहे और अपने-अपने कामों के बारे में जानकारी देते रहे | इस दौरान सुरजीतसिंह चड्ढा और मोहन सेंगर ने मतदाता सूची से फर्जी नामों को कटवाने की जानकारी बावरिया को दी|

निमिष शाह भी रहे मौजूद

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया शुक्रवार- शनिवार की मध्यरात्रि जिस समय इंदौर में कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे थे, उस समय टीम राहुल गांधी के सदस्य और पर्यवेक्षक निमिष शाह भी रेसीडेंसी कोठी पर बावरिया के साथ मौजूद रहे| इस दौरान बावरिया और शाह के बीच चर्चा भी हुई|

4-5 महिला नेत्रियों ने की मुलाक़ात

बावरिया से मिलने के लिए महिला शहर कांग्रेस की अध्यक्ष शशि यादव, शिखा परिहार, मोनिका मांडले भी पहुंची | इस दौरान यादव ने बावरिया को फॉर्म भरने की जानकारी दी तो बावरिया ने कहा कि फॉर्म का आंकड़ा 3 हज़ार कर दो, मैं आपको राहुल गांधी के साथ चाय पिलवाऊंगा| यह मुलाक़ात महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता के बंगले पर होगी|

इंदौर आकर लेंगे बैठक

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया ने इंदौर के नेताओं से कहा कि अब वे जल्द ही यहां आकर अलग -अलग समाजों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे और उनकी परेशानियों को सुनेंगे| इसी के साथ बावरिया ने विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 5 में सर्वाधिक नेताओं के टिकट चाहने पर, अपने नेताओं से कहा कि टिकट जिसे भी मिले बाकी सभी नेताओं को पार्टी का काम करना है और जिताना है|

Share.