कार्यकर्ताओं का गुस्सा दूर करेगी भाजपा

0

भाजपा ने चुनाव से पूर्व जनता का हालचाल जानने का जिम्मा भले ही न उठाया हो, लेकिन अपने कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की नाराज़गी को दूर करने की जिम्मेदारी उठा ली है।

भाजपा ने केंद्रीय मंत्री, प्रदेश सरकार के मंत्री, वरिष्ठ नेताओं और प्रदेश पदाधिकारियों को मिलाकर 46 नेताओं की टीम बनाई है, जो जिलों में जाकर जानने की कोशिश करेगी कि कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों के बीच कितनी नाराजगी है।

इस फीडबैक के आधार पर ही उन्हें आगे चुनाव का कार्य सौंपा जाएगा। यह टीम जिलों में आगामी कार्यक्रमों को भी तय करेगी। पार्टी में काफी समय से शिकायत थी कि स्थानीय स्तर पर संगठन में ऊंच-नीच है, वहीं कई नेताओं के बीच आपसी तालमेल नहीं है। इसका खामियाजा पार्टी को आगामी चुनाव में भुगतना पड़ सकता है। इसी को ध्यान में रखकर ये टीमें बनाई गई हैं।

कौन-कौन जाएगा किस जिले –

मुरैना, भिंड और ग्वालियर नगर – विक्रम वर्मा व प्रहलाद पटेल पन्ना

पन्ना, दतिया और ग्वालियर ग्रामीण – थावरचंद गेहलोत व आलोक संजर

शिवपुरी, श्योपुर और भोपाल नगर – नरेंद्र सिंह तोमर व प्रदीप लारिया

सागर, टीकमगढ़ और रायसेन – प्रभात झा व जीतू जिराती

छिंदवाड़ा, सिवनी और भोपाल ग्रामीण – कैलाश विजयवर्गीय व लालसिंह आर्य

सीधी और अनूपपुर – फग्गन सिंह कुलस्ते व अरविंद भदौरिया

जबलपुर ग्रामीण, दमोह और छतरपुर – नंदकुमार चौहान व हेमंत खंडेलवाव

गुना और अशोक नगर – सत्यनारायण जटिया व गणेश सिंह

मंडला और बालाघाट – कृष्ण मुरारी मोघे व अनूप मिश्रा

नरसिंहपुर और डिंडोरी – मेघराज जैन व अजय प्रताप सिंह

बड़वानी और नीमच – वीरेंद्र खटीक व बंशीलाल गुर्जर

देवास और होशंगाबाद – जयंत मलैया व रंजना बघेल

अलीराजपुर, झाबुआ और सीहोर – गोपाल भार्गव व मनोहर ऊंटवाल

रीवा, कटनी और उमरिया – भूपेंद्र सिंह व रामेश्वर शर्मा

जबलपुर नगर, हरदा और बैतूल – नरोत्तम मिश्रा व सुरदर्शन गुप्ता

उज्जैन ग्रामीण और बुरहानपुर – राजेंद्र शुक्ला व रामकृष्ण कुसमरिया

राजगढ़ और आगर – रामपाल सिंह व विनोद गोटिया

सतना और सिंहरौली – गौरीशंकर शेजवार व ऊषा ठाकुर

उज्जैन नगर, धार और रतलाम – जयभान सिंह पवैया व विजेश लूनावत

इंदौर नगर और मंदसौर – उमाशंकर गुप्ता व कैलाश सोनी

Share.