भाजपा जनता से पूछेगी, कैसा हो घोषणा-पत्र

1

आगामी चुनाव को ध्यान में रखते हुए सभी पार्टियां अपना घोषणा-पत्र बनाने से पहले काफी सोच-विचार कर रही है। इस बीच भाजपा ने घोषणा-पत्र बनाने के लिए एक नया रास्ता अपनाया है।

जनता से रायशुमारी

भाजपा अपना घोषणा-पत्र प्रदेश में दस संभाग की 24 जगहों पर जाकर जनता से रायशुमारी करके तैयार करेगी। भाजपा जनता से पूछेगी कि विधानसभा चुनाव में घोषणा-पत्र और विज़न क्या होना चाहिए। इसके लिए संभागीय समितियों का गठन किया गया है।

भाजपा को जनभावनाओं का ध्यान

पार्टी के प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता डॉ. दीपक विजयवर्गीय ने पत्रकारों से मुखातिब होते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि समाज के हर क्षेत्र से सुझाव लेकर घोषणा-पत्र तैयार किया जाएगा। दूसरे दल तो पूरी तरह सीमित लोगों और नौकरशाही पर ही निर्भर हैं, लेकिन भाजपा जनभावनाओं का ध्यान रखती है।

इन्हें मिला जिम्मा

– भोपाल संभाग से रघुनंदन शर्मा, उमाशंकर गुप्ता, मदनमोहन गुप्ता व डॉ. दीपक विजयवर्गीय।

– इंदौर संभाग से कैलाश विजयवर्गीय, अर्चना चिटनीस, रंजना बघेल व गोविंद मालू।

– उज्जैन संभाग से रघुनंदन शर्मा, मनोहर ऊंटवाल, बंशीलाल गुर्जर, चिंतामण मालवीय, सुधीर गुप्ता व चैतन्य काश्यप।

– ग्वालियर संभाग से डॉ. नरोत्तम मिश्रा, लालसिंह आर्य व विवेक शेजवलकर।

– सागर संभाग से लक्ष्मीनारायण यादव, रामकृष्ण कुसमारिया, गोपाल भार्गव व वीरेंद्र कुमार।

– जबलपुर संभाग से प्रहलाद पटेल।

– रीवा संभाग से फग्गनसिंह कुलस्ते, डॉ.योगेश मिश्रा, केशव पांडे, गणेश सिंह, गौरीशंकर बिसेन।

– शहडोल संभाग से योगेश ताम्रकार, अजय विश्रोई, रविनंदन सिंह व कैलाश सोनी।

करेंगे चर्चा

– किसान समूह से गौरीशंकर बिसेन व बंशीलाल गुर्जर।

– व्यापारी समूह से उमाशंकर गुप्ता, मदनमोहन गुप्ता व गोविंद मालू।

– उद्योग समूह से कैलाश विजयवर्गीय, चैतन्य काश्यप व मदनमोहन गुप्ता।

– छात्र, युवा, शिक्षक एवं महिला समूह से अर्चना चिटनीस, गोविंद मालू व उमाशंकर गुप्ता।

– अनुसूचित जनजाति समूह से फग्गनसिंह कुलस्ते, ज्ञानसिंह व रंजना बघेल।

– अनुसूचित जाति समूह से लालसिंह आर्य, डॉ. चिंतामण मालवीय व मनोहर ऊंटवाल

सीएम का किसान चौपाल का कार्यक्रम भी बदला

भाजपा किसान मोर्चा बुधवार को 200 विधानसभा सीटों के 2200 गांवों में किसान चौपाल लगाने जा रहा है। चौपाल के लिए पहले सीएम शिवराजसिंह चौहान का कार्यक्रम सोनकच्छ विधानसभा के फतनपुर गांव में तय किया गया था, लेकिन सीएम की व्यस्तता और मौसम को देखते हुए अब वे राजधानी से सटे बैरसिया विधानसभा क्षेत्र के परवलिया में किसानों के बीच चौपाल लगाएंगे।

Share.