किसानों-गृहिणियों को साधने में जुटी भाजपा

0

भारतीय जनता पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर सक्रिय हो चुकी है| भाजपा हर वर्ग की जनता को साधने में जुटी है| मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने कमर कस ली है| मध्यप्रदेश में भाजपा इसी तर्ज पर रूठे किसानों को मनाने के लिए नई पहल शुरू कर रही है| प्रदेश में भाजपा ने किसान चौपाल आयोजन करने की योजना बनाई है|

भारतीय जनता पार्टी का किसान मोर्चा 11 जुलाई को प्रदेश की 2200 पंचायतों में एक साथ किसान चौपाल लगाएगा|  इसमें युवा किसानों को बुलाया जा रहा है ताकि उन्हें दिग्विजय शासनकाल में किसानों की बदहाल स्थिति से अवगत करवाया जा सके| यह बात भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष रणवीरसिंह रावत ने कही|

इससे यह तो साफ़ दिखाई दे रहा है कि बकौल रावत प्रदेश के युवा किसानों को बहलाने की कोशिश कर रहे हैं|  इन युवाओं ने चूंकि दूसरी सरकार देखी नहीं हैं, इसलिए हम उन्हें कांग्रेस शासनकाल की हकीकत से अवगत करवाएंगे| प्रदेश की 200 विधानसभाओं में प्रत्येक विधानसभा की 11 ग्राम पंचायतों में किसान चौपाल कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे| इसमें मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह आदि शामिल होंगे|

वहीं छत्तीसगढ़ में भी चुनाव  को देखते हुए भाजपा ने महिला वोटरों को साधने का काम शुरू कर दिया है| लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चाय पर चर्चा की तर्ज पर अब भाजपा महिला मोर्चा उज्ज्वला की चाय-रसोई अभियान शुरू करने जा रही है| भाजपा महिला मोर्चा इसकी शुरुआत बस्तर से करेगी|

इस अभियान में उज्ज्वला योजना में जिन महिलाओं को गैस कनेक्शन मिला है, महिला मोर्चा की पदाधिकारी उनकी रसोई में जाएंगी और केंद्र-राज्य की योजनाओं के बारे में बात करेंगी| यही नहीं, गांव, मोहल्ले और सोसाइटी में उज्ज्वला की चाय नाम से अभियान चलाया जाएगा। इसमें महिलाओं को एक स्थान पर एकत्र करके मोदी का मंत्र दिया जाएगा|

Share.