भाजपा-जेडीयू के बीच सीटों पर सहमति, जल्द होगी घोषणा

0

2019 के लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा एनडीए के साथी दलों को साधने की कोशिश में जुट गई है। इस बीच चुनावी शंखनाद होने से पहले बिहार में भाजपा और जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के बीच सीटों के बंटवारे पर सहमति बन गई है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में खुद इसका ऐलान किया। उन्होंने कहा कि कहा कि जल्द इसकी आधिकारिक घोषणा भी कर दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से बातचीत हुई है। 12 जुलाई को जब अमित शाह पटना आए थे, उस वक्त इस मुद्दे पर हमारी बात हुई थी। उन्होंने कहा कि सीटों को लेकर जल्द ऐलान कर दिया जाएगा। जेडीयू नेता आरसीपी सिंह ने कहा कि दोनों पार्टियों के बीच लोकसभा चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर लंबे वक्त से चर्चा हो रही थी, जो अब पूरी हो चुकी है। जल्द ही आधिकारिक जानकारी मिल जाएगी।

उपेंद्र कुशवाहा देरी का कारण

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सीटों के बंटवारे में देरी का कारण उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी है। भाजपा उन्हें दो सीट देना चाहती है, वहीं उपेंद्र की पार्टी के तीन सांसद लोकसभा में हैं। कहा जा रहा कि यदि उपेंद्र को ज्यादा सीटें मिली तो वे महागठबंधन का हिस्सा भी बन सकते हैं।

ऐसा होगा सीटों का बंटवारा

रिपोर्ट के अनुसार, जेडीयू 12, भाजपा 20, लोक जनशक्ति पार्टी 6 और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी 2 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। फिलहाल समीकरण बदल भी सकते हैं, यदि उपेंद्र कुशवाहा एनडीए का समर्थन छोड़ महागठबंधन में शामिल हो जाते हैं। गौरतलब है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 12 जुलाई को पटना गए थे, तब खुद सीएम नीतीश कुमार ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था, लेकिन दो महीने होने को है। दो महीने बाद भी दोनों पार्टियों के बीच कोई आधिकारिक घोषणा सामने नहीं आई है।

लोकसभा चुनाव 2019: एनडीए का सीट शेयरिंग का फॉर्मूला तैयार

लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा अध्यक्ष की चाह

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को नहीं मिलेगा बहुमत

Share.