मध्यप्रदेश में यहां 1980 से चुनाव नहीं हारी भाजपा

0

देश में चुनावी माहौल चल रहा है और सभी पार्टियां लोगों को लुभाने में लगी हुई हैं| मध्यप्रदेश में भी चुनाव होने वाले हैं| यहां एक सीट पर वर्ष 1980 से भाजपा का ही कब्ज़ा है| दरअसल, विदिशा विधानसभा मध्यप्रदेश की अहम सीटों में से एक है| यह बेतवा नगरी के नाम से फेमस है| यहां 2 लाख 3 हजार 18 मतदाता हैं| इनमें से अधिकांश एससी-एसटी मतदाता हैं, जो भाजपा को पसंद करते हैं| यह सीट पहले मुख्यमंत्री शिवराज के संसदीय क्षेत्र में थी| 2013 के चुनाव में राज्य के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने यहां से चुनाव लड़ा था|  हालांकि उन्होंने इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद उपचुनाव हुआ था|

अब विदिशा विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का संसदीय क्षेत्र है| यहां पर भाजपा के कल्याणसिंह ठाकुर वर्तमान में विधायक हैं| इनके पहले वर्ष 2008 के चुनाव में भाजपा के राघव ने कांग्रेस  के शशांक भार्गव को 12 हजार से ज्यादा वोटों से हराकर जीत हासिल की थी|

विदिशा की इस सीट के लिए भाजपा और कांग्रेस में हमेशा जंग दिखती आई है, लेकिन अब यहां ‘आम आदमी पार्टी’ ने भी अपना उम्मीदवार उतारा है| अब तक चुनाव में कांग्रेस केवल दो बार ही जीत हासिल कर पाई है | अब कहा जा रहा है कि भाजपा की ओर से विधायक कल्याणसिंह ठाकुर मैदान में आ सकते हैं| वहीं कांग्रेस की ओर से शशांक भार्गव को टिकट दिया जा सकता है|

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में कुल 231 विधानसभा सीटें हैं, इनमें से 230 सीटों पर चुनाव होते हैं जबकि एक सदस्य को मनोनीत किया जाता है| 2013 के चुनाव में भाजपा को 165, कांग्रेस को 58, बसपा को 4 और अन्य को तीन सीटें मिली थीं|

कांग्रेस ने बनाई ‘फेंकू एक्सप्रेस’, जानें कहां चलेगी ये ट्रेन…

चुनाव से पहले शिवराज कैबिनेट में कई बड़े फैसले

Share.