अजयसिंह ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

0

चुनाव नजदीक आते ही आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो गया है। अब मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की शिकायत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से होने लगी है। मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस नेता अजयसिंह ने पीएम मोदी को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने ई-टेंडर मामले में सीबीआई जांच की मांग की है।

व्यापम से बड़ा घोटाला

मध्यप्रदेश में पेपरलेस और कैशलेस व्यवस्था पर आधारित ई-टेंडर मामले में हुए घोटाले पर अजयसिंह ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर शिवराज सरकार के खिलाफ कई आरोप लगाए हैं। उन्होंने लिखा है कि यह घोटाला व्यापम से भी बड़ा है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि जल निगम, पीडब्ल्यूडी एवं जल संसाधन विभाग की जिन निविदाओं में अंकित की गई राशि में गड़बड़ी की गई है, उसमें डेमो आईडीएस का उपयोग किया गया है।

तथ्यों से छेड़छाड़

नेता प्रतिपक्ष ने पीएम को लिखा है कि आप इस पूरे मामले में जल्द जांच करवाएं। साथ ही जांच एजेंसी मेरे द्वारा दिए गए तथ्यों के आधार पर सभी दस्तावेजों को जब्त कर इससे जुड़े लोगों और अधिकारियों से कड़ी पूछताछ करे। अपने पत्र में अजयसिंह ने आगे लिखा है कि इसकी तत्काल जांच करवाई जाए| इस घोटाले के तथ्यों के साथ छेड़छाड़ प्रारंभ हो गई है और उन्हें नष्ट करने की सुनियोजित साजिश शुरू कर दी गई है।

हो नंबर की जांच

अजयसिंह ने लिखकर कहा है कि जल निगम, पीडब्ल्यूडी एवं जल संसाधन विभाग की जिन निविदाओं में अंकित की गई राशि में गड़बड़ी की गई, उसमें डेमो आईडीएस का उपयोग किया गया है, जिसे ऑस्मो आईटी सॉल्यूशन कंपनी द्वारा परफॉरमेंस  टेस्टिंग के लिए बनाया गया है। इस कंपनी के मुख्य कर्ताधर्ता विनय चौधरी हैं, जिनके मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल तथा कंपनी की गतिविधियों की जांच की जाए तो बड़े खुलासे होंगे।

Share.