‘आप’ ने दिया कर्नल बैंसला को ऑफर

0

राजस्थान में विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नज़दीक आते जा रहे हैं, राजनीतिक माहौल में गर्माहट भी बढ़ सी गई है। सीएम वसुंधराराजे अपनी राजस्थान गौरव यात्रा पर निकल चुकी हैं वहीं कांग्रेस भी वसुंधरा को घेरने में देर नहीं कर रही है। भाजपा और कांग्रेस के बाद अब आम आदमी पार्टी ने भी राजस्थान में अपनी नज़रें गड़ा ली हैं। पार्टी के प्रदेश प्रभारी दीपक वाजपेयी ने गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ीसिंह बैंसला से मुलाकात कर चर्चाओं का बाज़ार गर्म कर दिया है।

कर्नल बैंसला के साथ ‘आप’ की नज़दीकी को आगामी विधानसभा चुनाव की तरफ इशारा समझा जा रहा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि कर्नल बैंसला आम में शामिल हो सकते हैं।आम आदमी पार्टी के प्रभारी दीपक वाजपेयी ने बैंसला से मुलाकात कर समर्थन मांगा है। बैसला को आप पार्टी में शामिल होने का भी ऑफर दिया है। हालांकि अभी यह तय नहीं हुआ है कि कर्नल बैंसला आप को समर्थन देंगे या नहीं।

बता दें कि 11 अप्रैल को आप ने कुमार विश्वास को राजस्थान प्रभारी पद से हटा दिया था। उनकी जगह दीपक वाजपेयी को प्रदेश का नया प्रभारी बनाया गया। यह फैसला पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी में लिया गया।

कर्नल बैंसला इंडियन रेम्बो

कर्नल किरोड़ी बैंसला का जन्म पूर्वी राजस्थान के करौली जिले के एक छोटे से गांव में हुआ था। शुरूआत में वो शिक्षक के तौर पर काम किया करते थे, लेकिन पिता के फौज में होने के कारण वे भी फौज में शामिल हो गए और सिपाही बन गए। कर्नल बैंसला ने 1962 के भारत-चीन और 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में भी अपनी बहादुरी का जौहर दिखाया। उनके सीनियर्स उन्हें ‘जिब्राल्टर की चट्टान’ कहते थे और साथी कमांडो ‘इंडियन रेम्बो’ कहा करते थे। उनकी बहादुरी का नतीजा था कि वे सेना में एक मामूली सिपाही से तरक्की पाते हुए कर्नल के रैंक तक पहुंचे और फिर रिटायर हुए।

देश की सेवा के बाद कर्नल बैंसला ने अपने जीवन में दूसरी बड़ी लड़ाई लड़ी, अपने गुर्जर समुदाय के लिए। 3 सितंबर 2006 को बैंसला चर्चा में आए, जब उनके समर्थकों ने करौली के हिण्डोन कस्बे में दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग जाम किया। यह आंदोलन तब से किसी न किसी रूप में चल ही रहा है। इस आंदोलन में हिंसा की वजह से 72 लोग अपनी जान गवां चुके हैं।

यह खबर भी पढ़े – वसुंधरा की यात्रा के विरोध में सरकारी कर्मचारी

यह खबर भी पढ़े – वसुंधरा सरकार से 40 दिन सवाल पूछेगी कांग्रेस

यह खबर भी पढ़े – जादूगर है अमित शाह का बेटा – गहलोत

Share.