website counter widget

Hindi Article : कलयुग के धृतराष्ट्र

0

महाराष्ट्र में सत्ता का खेल बड़ा गजब ढा रहा हैं

शिवसेना को फूट-फूटकर रुला रहा हैं |

बेटे को बनाने राजा,उद्धव अपनों से दुश्मनी करते जा रहे हैं

सुशासन के नाम पर कुशासन फैलाते जा रहे है |

सत्ता की भूख इस कदर बढ़ गई

की शिवसेना कटोरा लेकर दुश्मन के दरवाज़े चली गई |

जो सेना, सोनिया को देख गुर्राती थी वो पंजे को चाटने लगी

हाथ जोड़कर पवार से कुर्सी का पावर मांगने लगी |

मातोश्री से निकल कर राजभवन के चक्कर लगा रहे हैं

मोदी को झूठा और कांग्रेस को भगवान बता रहे हैं |

फिर लगा राष्ट्रपति शासन फिर चुनाव का घंटा बजाया जायेगा

मतदान के नाम पर फिर जनता का पैसा सरकार के हाथो बहाया जायेगा |

कुर्सी की लालच में कभी व्यापारी,कभी भिखारी, अरे तुम कितना गिर गए

आदित्य के मोह में देखो उद्धव कलयुग के धृतराष्ट्र बन गए |

एकता का भाषण देने वालो जरा तुम भी एकता दिखाओ

महाराष्ट्र को राष्ट्र ही रहने दो, रण मत बनाओ ||

मध्यप्रदेश दिवस: आइए जानें कुछ ख़ास, इतिहास और रोचक बातें

Vishvambhar Nath Tiwari ( Creative Editor)

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.