मरते दम तक जेल में रहेगा हत्यारा रामपाल

0

सतलोक आश्रम का संचालक और स्वयंभू बाबा कहलाए जाने वाला रामपाल अब मरते दम तक जेल की चारदीवारी के अंदर ही रहेगा| आज यानी मंगलवार को हिसार की अदालत ने दो मामलों में उसे दोषी करार दिया और उम्रकैद की सज़ा सुनाई| आरोपी पर चार महिलाओं और एक बच्चे की हत्या का आरोप लगाया गया था| इसके साथ ही उसे एक लाख रुपए का जुर्माना भी देना होगा|

खुद को आध्यात्मिक गुरु बताने वाले रामपाल के मामले पर फैसला सुनाने से पहले  हरियाणा के हिसार शहर को पूरी तरह से छावनी में तब्दील कर दिया गया| किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए पूरे हिसार शहर में धारा 144 लगाई गई| सुरक्षा के लिए आसपास के 7 ज़िलों से पुलिस बल भी बुलाया गया| रेलवे स्टेशन और बस अड्डे पर पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं| नवंबर 2014 में सतलोक आश्रम में पुलिस और रामपाल समर्थकों के बीच टकराव हुआ था| इसके बाद वहां से 4  महिलाओं व एक बच्चे के शव बरामद किए थे| वहीं एक महिला की मौत के मामले में भी रामपाल को दोषी साबित किया गया|

गिरफ्तार करने के लिए 50 करोड़ का खर्च  

फैसले से पहले ही अदालत के चारों ओर तीन किलोमीटर का सुरक्षा घेरा बनाया गया था| इस सुरक्षा घेरे को भेदकर कोई भी बाहरी व्यक्ति अंदर प्रवेश नहीं कर सका | जब पुलिस ने रामपाल को गिरफ्तार किया था, तब पूरे ऑपरेशन पर राज्य पुलिस का 50 करोड़ रुपए से ज्यादा का खर्चा करना पड़ा था| इस दौरान 6 लोगों की जान भी गई थी|

Share.